You are on page 1of 74

भारतीय सार्वजनिक स्र्ास््य मािक

(Indian Public Health Standard)


(IPHS)
उपस्र्ास््य ककद्र कक किए किशाानिशदे ा
Revised 2012

स्र्ास््य कसर्ा कमहानिशााएय


स्र्ास््य क र्ं कपररर्ार ककल्याण कमंत्राएय
भारत कसरकार

1|Page
वर्षय-सूची
पररचय- उपस्र्ास््य कन्द््र ों ........................................................................................................................ 5

भारतीय सर्वजनिक स्र्ास्थ मािकों क उद्दश्य .............................................................................................. 6

उपस्र्ास्थ ककन्द््र ों कका कर्र्गीकरण ................................................................................................................ 6

टाइप A ................................................................................................................................................. 6

टाइप B (MCH की उप स्र्ास्थ कद्र ) ......................................................................................................... 8

उप स्र्ास्थ कद्र मद प्रशाि की जाि र्ाएी सर्ा ं .............................................................................................. 9

जििी कसरु क्षा कयोजिा ......................................................................................................................... 13

जििी किाा कु सरु क्षा ककायवक्रम क(ज स सक) ........................................................................................ 14

र्गभवर्ती कमिहएाओं कक कहक़ .................................................................................................................. 15

पररर्ार कनियोजि कऔर कर्गभवनिरोधक.................................................................................................... 16

सरु क्षक्षत कर्गभवपात कसवु र्धा ं .................................................................................................................. 16

रोर्गनिर्ारक कसवु र्धा ं.......................................................................................................................... 16

ककाोर कस्र्ास््य कशखभाए ................................................................................................................... 17

स्कूए कस्र्ास््य कसर्ा .ं ........................................................................................................................ 17

स्थािीय करोर्गों कका कनियंत्रण ................................................................................................................. 17

रोर्ग कनिर्गरािी, कीकृत करोर्ग कनिर्गरािी कपररयोजिा क(आईडी सपी) ....................................................... 17

पािी कऔर कसफाई कव्यर्स्था ................................................................................................................. 18

vkWÅVjhp@QhYM lsok xzke LokLF; ,oa iks"k.k fnol ¼VHND½ .......................................................................... 18

सामश
ु ानयक कस्तरीय कबातचीत .............................................................................................................. 21

समन्द्र्य कऔर कनिर्गरािी ...................................................................................................................... 21

राष्ट्रीय कस्र्ास््य ककायवक्रम .................................................................................................................. 22

मैिपॉर्र क(जि-ताकत) ............................................................................................................................ 27

भौनतक कमए
ू ठांचा .................................................................................................................................... 27

भर्ि कनिमावण कऔर किक्ाा कबिािा .......................................................................................................... 28

2|Page
आर्ासीय कव्यर्स्था ................................................................................................................................. 29

चचन्द्ह ...................................................................................................................................................... 29

आपशा कप्रबंधि कउपाय कआर्ग, बाढ़ क र्ं कभक


ू ं प ककी कस्स्थनत कमद ..................................................................... 30

पयावर्रण कक कुिक
ु ू ए कसवु र्धा ं ............................................................................................................... 30

फिीचर ................................................................................................................................................... 30

उपकरण.................................................................................................................................................. 30

शर्ाइयां ................................................................................................................................................... 31

मशश ककी कसर्ा ं ...................................................................................................................................... 31

प्रयोर्गााएा: ........................................................................................................................................ 31

बबजएी:............................................................................................................................................... 31

पािी: .................................................................................................................................................. 31

टएीफोि: ............................................................................................................................................ 32

सनु िस्श्चत करफरए किएंकज: .................................................................................................................. 32

ाौचाएय ............................................................................................................................................. 32

ुपिाष्ट्ट कनिपटाि .................................................................................................................................. 32

ररकाडव कक करखरखार् कऔर कररपोिटिं र्ग ......................................................................................................... 32

निर्गरािी कतंत्र .......................................................................................................................................... 32

र्गण
ु र्त्ता कआश्र्ासि कऔर कजर्ाबशही ....................................................................................................... 33

ुिब
ु ध
ं क1 क: कराष्ट्रीय कप्रनतरक्षण कुिस
ु च
ू ी किााओ
ु ं कबच्चों कऔर कर्गभवर्ती कमिहएाओं कक किए ..................... 34

ुिब
ु ध
ं क२: कANM,स्टाफ किसव, मिहएा/परु
ु ष कस्र्ास््य ककायवकताव कक ककायव क र्ं ककतवव्य............................... 35

ुिब
ु ध
ं क3 क: कउपकन्द््र कका किक्ाा............................................................................................................. 38

ुिब
ु ध
ं क4: कफिीचर, ुन्द्य ककफिटंर्ग कऔर कवर्वर्ध कएख ककी कसच
ू ी ............................................................... 41

ुिब
ु ध
ं क5 क: कउपकरण कऔर कउपभोग्य कसामचियों ..................................................................................... 42

ुिब
ु ध
ं क5 कA प्रसर् ककमर कमद किर्जात ककोिा ........................................................................................... 46

ुिब
ु ध
ं क6 : प्रस्तावर्त कशर्ाइयों ककी कसच
ू ी ................................................................................................. 47

3|Page
ुिब
ु ध
ं क7: जैर् कचचककत्सा कुपिाष्ट्ट क(प्रबंधि कऔर कहैंडिएंर्ग) कक कर्गहर कशफि कवपट कक किए कमािक, 1998
नियम ..................................................................................................................................................... 49

ुिब
ु ध
ं क8: कररकॉडव कऔर कररपोटव ................................................................................................................ 50

ुिब
ु ध
ं क8A: रस्जस्टर .............................................................................................................................. 51

ुिब
ु ध
ं क8B: IDSP प्रारूप........................................................................................................................... 52

ुिब
ु ध
ं क9 : जांच कसच
ू ी ............................................................................................................................. 53

ुिब
ु ध
ं क9 कA ........................................................................................................................................... 57

ुिब
ु ध
ं क10 क: कउपस्र्ास््य ककद्र कक कककय कIPHS क कुिस
ु ार कफैिसिएटी कसर्दे कप्रारूप ................................... 60

मैिपॉर्र क(जि-ताकत) ........................................................................................................................ 63

ुिब
ु ध
ं क11 : mi LokLF; dsUnzksa ds fy, vkn'kZ ukxfjd कघोषणापत्र .................................................................. 68

ुिब
ु ध
ं क12 क: कसंक्षक्षप्त किामों ककी कसच
ू ी ................................................................................................... 70

सन्द्शभव .................................................................................................................................................... 72

कायवशए कक कसशस्यों कक किाम कस्जन्द्होंि कIPHS कमािको कको कपि


ु ः कतैयार ककरि कमद कयोर्गशाि किशया............... 73

4|Page
पररचय- उपस्र्ास््य कन्द््र ों
क उपस्र्ास््य कद्र , प्राथिमक स्र्ास्थ शखभाए प्रणाएी और समश
ु ाय क बीच सबस पररधीय और संपकव का
पहएा बबंश ु है . क उपस्र्ास्थ कद्र , ,सभी प्राथिमक स्र्ास्थ शखभाए सर्ा ं प्रशाि करि क साथ , आधार स्तर पर
,समश
ु ाय क साथ ुंतराफएक (interface) भी प्रशाि करता है. यह स्र्ास््य सवु र्धा ं उप स्र्ास्थ-कन्द््र ों,
प्राथिमक स्र्ास््य कन्द््र ों, सामश
ु ानयक स्र्ास््य कन्द््र ों, उप-संभार्गीय /उप-स्जएा ुस्पताएों और स्जएा
ुस्पताएों क निर्ावचकर्गण क क रफरए वपरािमड क निम्ितम स्तर है . स्र्ास््य उप कद्र का उद्दश्य बड पैमाि
पर निर्ारक और संर्धवक है , एककि यह भी उपचारात्मक शखभाए क क बनु ियाशी स्तर प्रशाि करता है.

जिसंख्या मािशं डों क ुिस


ु ार, मैशािी क्षत्रों मद हर 5000 आबाशी क िए और हर पहाडी/जिजातीय/रचर्गस्ताि
क्षत्रों मद 3000 आबाशी क िए क उप स्र्ास्थ कद्र स्थावपत होर्गी। जैसा की शा मद जिसंख्या का घित्र् समाि
िहीं है , क ही आशाव शा भर मद इस्तमाए करिा उचचत िहीं है . उप स्र्ास्थ कन्द््र ों की संख्या और . ि. म की
संख्या निभवर करता है ,संस्था क स्स्तचथ भार पर और र्गााँर् बस्स्तयों की शरू ी स्जसम उपस्र्ास्थ कद्र ाािमए है .
िामीण स्र्ास््य सांस्ख्यकी बए
ु िटि, २०१० क आधार पर माचव २०१० क ुिस
ु ार इति 147069 उपस्र्ास्थ –
कद्र , शा मद काम कर रह हैं. क उप स्र्ास्थ कद्र , जिसाँख्या मािशं डों क िए स्थावपत ककया जायर्गा ,स्जसक
िए भारतीय एोक स्र्ास्थ मािकों ि सर्ाओं की पैकज क स्र्ास्थ उप स्र्ास्थ कद्र को प्रशाि करती है, स्जसम
मािर् संसाधि ,बि
ु याशी सवु र्धा ,ं उपकरण और आपनू तव की जरूरत है स्जसस र्गण
ु र्त्ता क साथ सर्ा ं प्रशाि
की जा सक .

मािकों की स्थापिा क र्गनताीए प्रकक्रया है. र्तवमाि स्र्ास्थ प्राथिमकताओं और उपएब्ध संसाधिों क संधभव
मद इि मािकों को निधावररत ककया जा रहा है .समश
ु ाय को बि
ु याशी प्राथिमक स्र्ास्थ शखभाए सर्ा ं प्रशाि करि
क िए और शखभाए की र्गण
ु र्त्ता का क स्र्ीकायव मािक को बिा रखि क िए और प्राप्त करि क िए
,भारतीय एोक स्र्ास्थ मािकों को निधावररत ककया जा रहा है . उपस्र्ास्थ कद्र क िए भारतीय सर्वजनिक
स्र्ास्थ मािकों क संाोधि क शौराि, स्र्ास्थ कायवकताव मिहएाओं/ . ि. म स बातचीत क माध्यम स सर्ाओं
की व्यापक वर्स्तार क सम्बन्द्ध मद प्रनतकक्रया िएया र्गया , जो सर्ा ं प्रशाि करि क िएय उिस उम्मीश की जा
रही है ,स्जसस यह पता चएता है की बहुत स आर्श्यक सर्ा ं जो प्रर्गणणत है र्ह पहए ही ,उपस्र्ास्थ कद्र क
कमवचाररयों द्र्ारा िशया जा रहा है . तथावप, जो सर्ाओं को कहा जाता है प्रशाि करि क िए , र्ो स्र्ास्थ संकतकों
क पररणामों क साथ मए िहीं खात. इसिए यह र्ांछिीय है की भारतीय एोक स्र्ास्थ मािकों क तहत
पररकस्ल्पत, जिास्क्त प्रशाि करिी चािह , परू रद ज की सवु र्धाओं का वर्तरण करि क िए यह सनु िस्श्चत की
जािी चािह . बहतर पररणामों क िए सर्ाओं की निर्गरािी को मजबत
ू बिाया जा सकता है .

5|Page
भारतीय सर्वजनिक स्र्ास्थ मािकों क उद्दश्य
1. यह निचधवष्ट्ट कराि क िए की न्द्यि
ू तम आश्र्ािसत (आर्श्यक) सर्ा ,ं जो की उपस्र्ास्थ कद्र को
प्रशाि करि क िए उम्मीश की जाती है और राज्यों/ संघ ाािसत प्रशाों को र्ांछिीय सर्ा ं को उप
स्र्ास्थ कद्र द्र्ारा उपएब्ध कराि की कामिा करिी चािह
2. इि सवु र्धाओं क िए , शखभाए की, क स्र्ीकायव र्गण
ु र्त्ता (acceptable quality) को बिा रखि क
िए
3. इि सवु र्धाओं की निर्गरािी और पयवर्क्षण को सर्ग
ु म बिाि क िए
4. उपएब्ध कराई र्गयी सर्ाओं को ुचधक उत्तरशायी बिाि क िए

उपस्वास्थ केन्द्रों का वर्गीकरण


शा क ुएर्ग-ुएर्ग िहस्सों मद और यहााँ तक की क राज्य क ुन्द्शर मद ही, उपस्र्ास्थ कन्द््र ों की र्तवमाि
ुत्यचधक बशएती स्स्तचथ को शखत हु , इिको शो भार्गों मद र्र्गीकृत ककया र्गया है –टाइप A और टाइप B .
वर्िभन्द्ि कारकों को वर्चार मद रखत हु र्र्गीकरण ककया र्गया है ुथावत ् जएिहण क्षत्र, स्र्ास््य की मांर्ग
व्यर्हार (health seeking behavior), मामए का भार (case load), उपस्र्ास्थ कद्र की आसपास क क्षत्र मद
ुन्द्य सवु र्धाओं का स्थाि (location of other facilities) जैस पी चसी / सी चसी / फ.आर.य/ू आस्पताएद
. राज्यों को, निच िश र्ग िशाा निशदे ाों क ुिस
ु ार ,उिक उपस्र्ास्थ कन्द््र ों को शो प्रकार मद र्र्गीकृत करि
की आर्श्यकता होर्गी और तशिस
ु ार सर्ा ं और आधाररक संरचिा (infrastructure) उपएब्ध कराि होंर्ग.
इसका पररणाम उपएब्ध संसाधिों का इष्ट्टतम उपयोर्ग होिा है .

टाइप A
टाइप A उपस्र्ास्थ कद्र सभी िसफाररा (recommended) की र्गई सर्ा ं प्रशाि करर्गी िसर्ाय इसक की
प्रसर् कराि की सवु र्धा ं उपएब्ध िहीं है. हएाकक . ि. म एोर्गों को प्रसनू त वर्द्या (midwifery) मद
प्रिाक्षक्षत ककया र्गया है इसिए जरूरत क समय र् सामान्द्य प्रसर् करा सकती है. यिश इसकी मांर्ग बढ़ जाती
है , तो उप स्र्ास्थ कन्द््र को टाइप बी मद उन्द्ियि (up gradation) करि का वर्चार ककया जा सकता है.

निम्ि स्स्थनतयों मद उप स्र्ास्थ कन्द््र ों को इस श्रणी मद ाािमए ककया जा सकता है .

i. उप स्र्ास्थ कन्द््र ों जहााँ पयावप्त जर्गह और प्रसर् कराि क िए भौनतक बि


ु याशी (physical
infrastructure) ढांच िहीं होि की र्जह स प्रसर् कक्ष (labour room) की सवु र्धा ं और उपकरण
को उपएब्ध करािा इि उप स्र्ास्थ कन्द््र ों मद संभर् िहीं है . एककि इि क्षत्रों मद, प्रसर् की सर्ाओं क
िए ुभी भी र्हां समश
ु ाय क तरफ स मांर्ग हो सकता है जैस शरू शराज, मस्ु श्कए, पहाडी, रचर्गस्ताि
या आिशर्ासी क्षत्र मद स्स्थत उप स्र्ास्थ कद्र . इि क्षत्रों मद जहााँ जिसाँख्या ,प्रसर् की सवु र्धा का एाभ

6|Page
उठाि क िए , उप स्र्ास्थ कन्द््र ों पर निभवर है और जहााँ पररर्हि सवु र्धा खाराप होि की संभार्िा
है . ऐसी स्स्थनतयों मद . ि. म िसों को घर पर प्रसर् करािी चािह और इि उप स्र्ास्थ कन्द््र ों की
. ि. म िसों को स्स्कल्ड बथव ुटद डदस (SBA) प्रिाक्षक्षत होिा ुनिर्ायव है. प्राथिमकता क आधार
पर इि उप स्र्ास्थ कन्द््र ों को बि
ु याशी सवु र्धाओं की उन्द्ियि (infrastructure up gradation) क
िए और टाइप बी उप स्र्ास्थ कन्द््र ों मद रूपांतरण क िए ,पहचाि की जािी चािह .
ii. ुन्द्य उच्च स्र्ास्थ सवु र्धा ं जैस PHC/CHC/FRU/ुस्पताए क आसपास क क्षत्र मद स्स्थत उप
स्र्ास्थ कद्र जहााँ प्रसर् की सवु र्धा ं उपएब्ध हैं.
iii. मख्
ु याएय क क्षत्र मद स्स्थत उप स्र्ास्थ कद्र
iv. उप स्र्ास्थ कद्र जहााँ र्तवमाि मद कोई प्रसर् िहीं होती या कभी कभी प्रसर् होता हो ,मतएब बहुत ही
कम प्रसर् की कसस का भार है (case load) .यिश कसस का भार (case load) बढ़ जाता है तो इि
उप स्र्ास्थ कन्द््र ों को टाइप बी मद उन्द्ियि (upgradation) करि क िए वर्चार ककया जािा
चािह .

स्टाफ की सिफाररश (staff recommended)


1 . ि. म (ुनिर्ायव)
2 . ि. म िसदे (यह र्ांछिीय है की जिसाँख्या को इि शोिों क बीच वर्भास्जत कर सकत हैं, क
आउटरीच सर्ा ं प्रशाि करती है और शस
ू री उप स्र्ास्थ कद्र मद उपएब्ध रहती है)
1 स्र्ास्थ कमी (परु
ु ष) (ुनिर्ायव)
पाटव टाइम क आधार पर आउटसोिसिंर्ग (outsourcing) क माध्यम स स्र्छता सर्ा ं प्रशाि की जािी
चािह .

दिशा नििे श

 इि उप स्र्ास्थ कन्द््र ों मद प्रसर् कराि क िए सवु र्धा ं उपएब्ध िहीं होर्गी और मरीजों को आम तौर पर
पास क कन्द््र ों मद भजा जायर्गा जहााँ प्रसर् सर्ा ं प्रशाि की जाती है. यिश प्रसर् की सर्ाओं की
आर्श्यकता बढ़ जाती है तो उप स्र्ास्थ कद्र को टाइप बी मद उन्द्ियि (upgradation) करि का वर्चार
ककया जा सकता है . इि उप स्र्ास्थ कन्द््र ों को ुन्द्य सभी िसफाररा (recommended) की र्गयी सर्ा ं
प्रशाि करिी चािह और आउटरीच सर्ा ,ं प्रचचिएत रोर्गों (prevalent diseases) , टीबी ,कुष्ट्ठ रोर्ग,र्गैर
संचारी रोर्ग (non communicable disease), पोषण,पािी, साफ सफाई और महामारी पर ध्याि शिा
चािह . यह भी सनु िस्श्चत ककया जािा चािह की इि उप स्र्ास्थ कद्र क स्टाफ को ,प्राथिमकता
(priority) क आधार पर सभी ि कायवक्रमों मद प्रिाक्षण िशया जाय और ररफ्रार प्रिाक्षण नियिमत रूप
स प्रशाि ककया जाय.

7|Page
 जो स्टाफ शर्ग
ु म व क्षत्रों मद तैिात (posted) है उिको ुनतररक्त भर्ग
ु ताि प्रशाि की जािी चािह
 स्थानिक (endemic) क्षत्रों मद यिश कमी है तो परु
ु ष स्र्ास्थ कमी को प्राथिमकता क आधार पर र्क्टर
जनित (vector borne) रोर्गों क िए पोस्ट ककया जािा चािह .

टाइप B (MCH की उप स्वास्थ केंर)

इसम निम्ििएणखत प्रकार क उप स्र्ास्थ कन्द््र ाािमए होंर्ग


i. उप स्र्ास्थ कद्र जो बहतर स्स्थत (better located) है जो उिक इएाक मद आि र्ाए क्षत्रों स
ुच्छी तरह जड
ु हु हैं(good connectivity).
ii. उप स्र्ास्थ कद्र स्जिक पास ुच्छ भौनतक बि
ु याशी ढांच (physical infrastructure) हैं
ुचधमाितः(preferably) ,उिक ुपि इमारत, पयावप्त जर्गह, आर्ासीय आर्ास (residential
accommodation) और प्रसर् कक्ष की सवु र्धा ं
iii. उप स्र्ास्थ कद्र स्जिक पास, उप स्र्ास्थ कद्र की क्षत्र मद आि र्ाए इएाक स पहए की प्रसर् की
ुच्छ मामएों क भार (case load) हैं.
iv. स्जि उप स्र्ास्थ कन्द््र ों क पास उच्च स्तर की प्रसर् सवु र्धा ं िहीं हैं.

दिशा नििे श

ऐसी उप स्र्ास्थ कन्द््र ों को प्रसर् प्रशाि करि र्ाएी सवु र्धा क रूप मद वर्किसत करिा चािह और
प्रसर् क िए , उिक निकटस्थ टाइप उप स्र्ास्थ कन्द््र ों की जरूरतों को भी परू ा करिी चािह .
टाइप बी उप स्र्ास्थ कद्र को सभी िसफाररा (recommended) की र्गयी सवु र्धा ं प्रशाि करिी
होर्गी स्जसम उप स्र्ास्थ कद्र मद ही प्रसर् कराि की सवु र्धा ं ाािमए है. उिस महीि मद करीब २०
प्रसर् कराि की ुपक्षा की जा र्गी. उिको उपकरण (equipment) और प्रसर् कक्ष की सारी
सवु र्धा ं प्रशाि करिी चािह स्जसम ियब
ू ोिव कयर कािवर (newborn care corner) भी ाािमए है.
इि उप स्र्ास्थ कन्द््र ों की . ि. म ् िसों को स.बी. (SBA) प्रिाक्षक्षत होिा चािह . इि उप
स्र्ास्थ कन्द््र ों का सच
ु ारू रूप स संचाएि (for smooth functioning) क िए ुनतररक्त उपकरणों,
शर्ाइयां, आपनू तव (supplies), सामिी,२ बड और बजट प्रशाि ककया जा सकता है. यिश प्रसर् की
संख्या महीि मद २० या ज्याशा हो रही है तो ुनतररक्त २ बड उपएब्ध कराया जायर्गा.

स्टाफ की सिफाररश (recommended)

२ . ि. म ् (आर्श्यक)

१ स्र्ास्थ कमी (परु


ु ष) : (आर्श्यक)

8|Page
क स्टाफ िसव या . ि. म ् (यिश स्टाफ िसव उपएब्ध िहीं है )

(र्ांछिीय है यिश उप स्र्ास्थ कद्र मद प्रसर् की संख्या महीि मद २० या ज्याशा है )

आउटसोिसिंर्ग (outsourcing) क माध्यम स ,पण


ू व रूप क आधार पर (on full time basis) स्र्च्छता
की सर्ा ं प्रशाि की जािी चािह .

उप स्वास्थ केंर में प्रिाि की जािे वाली िेवाएं


उप स्र्ास्थ कद्र स प्रोत्साहक (promotive), निर्ारक (preventive) और कुछ उपचारात्मक
curative) प्राथिमक स्र्ास्थ शखभाए सर्ा ं प्रशाि करि की ुपक्षा करिी है. बशएती महामारी
वर्ज्ञाि (epidemiological) की स्स्थनत को शखत हु ,शोिों प्रकार की उप स्र्ास्थ कन्द््र ों को र्गैर
संक्रामक (non communicable) रोर्गों स सम्बंचधत सर्ाओं पर जोर शिा चािह .

जैसा की समझाया र्गया है की , स्र्ास्थ उप –कद्र मख्


ु य रूप स आउटरीच (outreach) सवु र्धा ं
प्रशाि करती है जहााँ बहुत स सर्ा ं उप स्र्ास्थ कद्र की भर्ि मद ही प्रशाि िहीं की जाती है ,सर्ा
प्रशाि करि की जर्गह निम्ििएणखत स्थािों मद हो सकता है :-

a) र्गााँर् मद :िाम स्र्ास््य र्ं पोषण िशि /टीकाकरण सत्र (session)


b) घर क शौरा करि क शौराि
c) घर घर सर्दे करि क शौराि
d) समश
ु ाय क साथ बैठकों और ककसी आयोजि क शौराि
e) सवु र्धा क पररसर मद. यह र्ांछिीय है की, क ही हफ्त मद छह िशिों क िए , क
ही िशि मद , क उप स्र्ास्थ कद्र को नियिमत ओ.पी.डी सर्ाओं मद स कम स कम
छह घंट प्रशाि करिी चािह . उिम स कर्ए क ही आउटरीच सर्ा ं प्रशाि कर
सकत हैं क समय मद.

शो प्रकार की उप स्र्ास्थ कन्द््र ों द्र्ारा प्रशाि की जाि र्ाएी सर्ाओं मद मख्


ु य ुंतर (main differences) इस
प्रकार है :-

टाइप : उप स्र्ास्थ कद्र क िए पररकस्ल्पत (envisaged) सभी सर्ा ं प्रशाि करिा है िसर्ाय प्रसर् कराि की
सर्ा ं सवु र्धा ं यहााँ उपएब्ध िहीं करायी जा र्गी .

टाइप बी : उिको िसफाररा की र्गयी सभी सर्ा ं प्रशाि करिी होर्गी स्जसम ाािमए है उप स्र्ास्थ कद्र मद ही, प्रसर्
कराि की सवु र्धा .ं यह उप स्र्ास्थ कद्र मात्रु और बाए स्र्ास््य ( म ्.िस. च ) क रूप मद , उप स्र्ास्थ कद्र मद ही
प्रसर् कराि और िर्जात िााु शखभाए की बि
ु याशी सर्ाओं (basic facilities) क साथ काम करर्गा.

9|Page
हएाकक मख्
ु य ध्याि (main focus) संस्थार्गत प्रसर् को बढ़ाि क िए ककया जायर्गा तथावप घर प्रसर् मद भार्ग
एि की सवु र्धा ं शोिों प्रकार की उप स्र्ास्थ कन्द््र ों मद उपएब्ध रहर्गा. शोिों प्रकार की उप स्र्ास्थ कन्द््र ों द्र्ारा
प्रशाि की जाि र्ाएी सर्ाओं की समककत सचू च निम्ििएणखत है . सर्ाओं को इस प्रकार र्र्गीकृत ककया है जो हैं
आर्श्यक (न्द्यि
ू तम आश्र्ासि सर्ा ं ) (minimum assured services) या र्ांछिीय (desirable) है ( कक सभी
राज्यों / संघ ाािसत प्रशाों (union territories) को एक्ष्य हािसए करि की ख्र्ािहा करिी चािह ) (that all
states/UTs should aspire to achieve).

मात ृ और बाल-स्वास््य (MCH)

मात ृ स्र्ास््य

i. प्रसर् पर्
ू व शखभाए :
आर्श्यक
 पहएी नतमाही क ुन्द्शर सभी र्गभवधारण का प्रारं िभक पंजीकरण (र्गभवर्स्था क १२ र् सप्ताह स
पहए). एककि यिश क मिहएा पंजीकरण क िए ुपि र्गभवर्स्था मद शर स आती है ,तो उन्द्हद
भी पंजीकृत ककया जािा चािह और र्गभवधारण क उम्र क ुिस
ु ार शखभाए िशया जािा चािह .
 पंजीकरण क साथ न्द्यि
ू तम ४ प्रसर् पर्
ू व शखभाए. प्रसर् पर्
ू व जांच (ANC visits) क िए सझ
ु ार्
िशया र्गया ुिस
ु च
ू ी
पहएी जांच : १२ सप्ताह क भीतर – ुचधमाितः स्जतिी जल्शी र्गभवधारण क रूप मद आांका
होती है (pregnancy is suspected)- पहएी प्रसर् पर्
ू व जांच, पंजीकरण और इनतहास.
शस
ू री जांच : १४ और २६ सप्ताह क बीच मद
तीसरी जांच : २८ और ३४ सप्ताह क बीच मद
चौथी जांच : ३६ सप्ताह और ुर्चध क बीच मद
 सम्बन्द्धी सर्ा ं जैस सामान्द्य परीक्षा मद जैस ऊंचाई, र्जि, बी.पी, िीिमया, पट की परीक्षा, स्ति
परीक्षा, फोिएक िसड ुिप
ु रू ण (पहएा नतमाही), १२ र् सप्ताह स आयरि और फोिएक िसड
ुिप
ु रू ण, िटटिस टॉक्साइड इंजक्ाि, ििमया की इएाज आिश, ( . ि. म ् िसों और ए. च.वर् क
द्र्ारा िशाा निशदे ाों क ुिस
ु ार प्रसर् पर्
ू व सर्ा और जन्द्म क समय स्स्कल्ड ुटद डदस)
 सभी प्रसर् पर्
ू व माताओं द्र्ारा तंबाकू क इस्तमाए की ररकॉर्डिंर्ग
 न्द्यि
ू तम प्रयोर्गााएा जांच जैस मत्र
ू की जांच र्गभावर्स्था की पस्ु ष्ट्ट क िए , हीमोग्एोबबि आकएि,
ल्ब्यिू मि और ार्ग
ु र क िए मत्र
ू की जांच और ुन्द्य आर्श्यक परीक्षणों
 आश्र्ािसत सर्ा प्रशाि करि क िए िाम क आधार पर सभी र्गभवर्ती मिहएाओं पर िजर रखिा
(tracking)
 हाई ररस्क र्गभावर्स्था क मामएों की पहचाि

10 | P a g e
 र्गभावर्स्था क शौराि खतर क संकत का पहचाि और प्रबंधि (management of danger signs of
pregnancy)
 मएररया स्थानिक क्षत्रों मद र्गभवर्ती मिहएाओं क िए ि.वर्.बी.डी.िस.पी क िशाा निशदे ाों क ुिस
ु ार
मएररया रोकथाम
 पहचाि की र्गयी मामएों की जो की उिक प्रबंधि की क्षमता स पर हैं उिका उचचत और समय पर
रफरए
 प्रसर् पर्
ू व मााँ जो तंबाकू या धम्र
ु पाि उपयोर्गकताव है उिको आहार, आराम और तंबाकू िाा उन्द्मए
ू ि पर
परामाव ,शस
ु र क हाथ मद िसर्गरट स होि र्ाए खतरों क बार मद जािकारी और र्गभवर्स्था क शौराि
मामए
ू ी समस्याओं, संस्थार्गत प्रसर् पर सएाह, पर्
ू व जन्द्म की तैयाररयां और जिटएता की तत्परता,
खतर का संकत, और यिश घर पर बए
ु ाया है तो स्र्च्छ और सरु क्षक्षत प्रसर् ,प्रसर् क बाश शखभाए र्ं
स्र्च्छता, पोषण, िर्जात िााु का ख्याए, जन्द्म का पंजीकरण स्तिपाि की शीक्षा (initiation), ६
महीि तक वर्ाष स्तिपाि, शध
ू वपएाि की मांर्ग, ६ महीि स ुिप
ु रू क णखएािा (शध
ू छुडाि का आयु
(weaning) और ुधव ठोस (semi-solid) और ठोस आहार ारू
ु करिा ), िर्जात और यर्
ु ा बच्च को
णखएािा, और र्गभवनिरोधक
 मौजूशा योजिाओं और कायवकमों जैस जििी सरु क्षा योजिा क तहत प्रार्धािों (provisions) क बार मद
जािकारी प्रशाि करिा
 संिशग्ध आर.टी.आई/ स.टी.आई मामएों को पहचाि और बि
ु याशी प्रबंधि ,परामाव और रफरए सर्ा ं
प्रशाि करिा
 प्रसर् पर्
ू व माताओं क मामएद जो चुक र्ग हैं और छुट र्ग है उिक िाम क आधार पर िजर रखिा
ii. प्रसर् क शौराि शखभाए :
आर्श्यक
 संस्थार्गत प्रसर् क िए बढ़ार्ा शिा
 यिश घर पर बए
ु ाया है तो घर पर ही स्स्कल्ड ुटद डदस (skilled attendance)
 उच्च जोणखम मामएों (high risk cases) का जो उिक प्रबंधि की क्षमता स पर है उिका उचचत
और समय पर रफरए

टाइप बी उप स्र्ास्थ कद्र क िए आर्श्यक

 पटोिाफ का उपयोर्ग करत हु प्रसर् का प्रबंधि करिा


 प्रसर् क समय, खतरों क संकत का पहचाि और प्रबंधि
 पी.पी. च, क्एम्पिसया, सपसीस क इएाज िए , पहचाि मद प्रर्ीणता (proficient) और बि
ु याशी
प्राथिमक सहायता (basic first aid) और “प्रसर् पर्
ू व शखभाए और जन्द्म क समय स्स्कल्ड बथव ुटद डदस

11 | P a g e
(skilled birth attendance)” या स.बी. क िशाा निशदे ाों क आधार पर इस तरह क मामएों का ाीघ्र
रफरए.
 मााँ और बच्च को उप स्र्ास्थ कन्द््र मद कम स कम 24 घंट प्रसर् क बाश रहिा है । उप स्र्ास्थ कन्द््र क
पयावर्रण को शोिों मााँ और बच्च क िए स्र्च्छ और सरु क्षक्षत ककया जािा चािह ।
iii. प्रसर् क बाश शखभाए
आर्श्यक
 जन्द्म क क घंट क भीतर जल्शी स्तिपाि की ारु
ु आत
 घर और उप स्र्ास्थ कन्द््र ों मद प्रसर् क िए प्रसर्ोत्तर घर भ्रमण, ०, ३, ७ और ४२ र् िशि
सनु िस्श्चत करद (शोिों मााँ और बच्च क िए )
 संस्थार्गत प्रसर् क मामएों क िए ३, ७ और ४२ र्द िशि क शौर को सनु िस्श्चत करद .
 जन्द्म क समय कम र्जि क बच्च ( २५०० िाम स कम ) क मामए मद, १४, २१ और २८ र्द िशिों
मद ुनतररक्त शौर मद जाि का तय करिा है.
 प्रसर्ोत्तर क शौर क शौराि, यिश जरुरत पडी तो, आई म िसीआई िशाानिशदे ा क ुिस
ु ार
मााँ क शखभाए और िर्जात िााु को णखएािा, बीमारी और जन्द्मजात ुसामान्द्यता ं
(congenital abnormalities) क संकत क िए िर्जात िााु की परीक्षा क बार सएाह शिा.
 आहार और आराम, स्र्च्छता, र्गभवनिरोधक, आर्श्यक िर्जात िााु का शखभाए, टीकाकरण,
िााु और बाएक को णखएािा, स.टी.आई/आर.टी.आई और च.आई.र्ी/ ड्स पर परामाव.
 पी. ि.सी मामएद जो चुक र्ग हैं और छुट र्ग हैं उिका िाम क आधार पर िजर रखिा.

बाल स्वास््य

आवश्यक

आर्श्यक िााु शखभाए क िए प्रसर् कक्ष मद िर्जात शखभाए क कािवर (newborn care corner)
(ुिब
ु ध
ं ५ ु): यिश प्रसर् उप स्र्ास्थ कद्र (टाइप बी) मद होता है तो उसक िए आर्श्यक

आर्श्यक िााु शखभाए

प्रसर् पर्
ू व शखभाए और जन्द्म क समय . ि. म ् िसों और ए. च.वर् क स्स्कल्ड ुटद डदस (skilled
attendance) क िशाा निशदे ा क ुिस
ु ार, आर्श्यक िााु शखभाए (ारीर क तापमाि को बिाय
रखिा और हाइपोथिमवया को रोकि क िए [र्गमी (warmth) का प्रार्धाि/कंर्गारू मशर कयर
(kangaroo mother care)(क. म ्.सी)], ऐरर् (airway) और सांस एि को बिाय रखि क िए , क
घंट क ुन्द्शर स्तिपाि आरं भ करिा, संक्रमण स सरु क्षा, िाए की शखभाए, और आाँखों की
शखभाए)

12 | P a g e
‘प्रसर् क बाश शखभाए’ क ुन्द्शर जैसा प्रसर् क बाश शौर क बार उल्एख ककया र्गया है.

 ६ महीि क िए वर्ाष स्तिपाि (exclusive breast feeding) क बार और स्तिपाि जारी


रखि क शौराि ६ महीि क उम्र स उचचत और पयावप्त परू क णखएाि (complementary
feeding) क ऊपर परामाव. (मिहएा र्ं बाए वर्कास मंत्राएय, भारत सरकार, द्र्ारा, िााु
और बच्च को णखएि क ऊपर राष्ट्रीय िशाा निशदे ा क ुिस
ु ार)
 वर्कास का आकएि और िााओ
ु ं और ५ साए क िीच बच्चों क वर्कास का आकएि और
समय पर रफरए करिा.
 टीकाकरण सर्ा ं : भारत सरकार क िशाा निशदे ाों क ुिस
ु ार टीका निर्ारणीय रोर्गों क
णखएाफ (against vaccine preventable diseases) सभी िााओ
ु ं और बच्चों का पण
ू व
टीकाकरण.(ुिब
ु ध
ं १ पर र्तवमाि टीकाकरण ुिस
ु च
ू ी)
 राष्ट्रीय िशाानिशदे ा क ुिस
ु ार बच्चों को वर्टािमि क रोर्गनिरोध (prophylaxis)
 आई म िसीआई रणिीनत ( strategy) क साथ बचपि क रोर्गों जैस कुपोषण, संक्रमण,
शस्त, बख
ु ार, िीिमया, तीव्र श्र्सि संक्रमण (ARI) आिश का रोकथाम और नियंत्रण.
 पण
ू व टीकाकरण कर्रज को सनु िस्श्चत करि क िए सार िााओ
ु ं और बच्चों का िाम क
आधार पर िजर रखिा.
 टीकाकरण क बाश प्रनतकूए घटिाओं (adverse events) की पहचाि और बाश की जांच
(follow up) और रफरए और ररपोिटिं र्ग.

जििी िुरक्षा योजिा


जििी कसरु क्षा कयोजिा कराष्ट्रीय किामीण कस्र्ास््य किमाि क( िआर च म) कक कुंतर्गवत क क कसरु क्षक्षत क
मातत्ृ र् कहस्तक्षप कहै कजो कइस कउद्दश्य कस कएार्ग कू ककया कर्गया कहै ककी कय कर्गरीब कर्गभवर्ती कमिहएाओं कमद कसंस्थार्गत क
प्रसर् कको कबढ़ार्ा कशर्गा कस्जसस कमात कृ मत्ृ य कु शर कऔर किर्जात कमत्ृ य कु शर ककम कहोंर्ग कI य कयोजिा कप्रसर् कऔर क
बाश कक कवर्तरण ककी कशखभाए कक कसाथ किकश कसहायता क कीकृत ककरती कहै कI इस कयोजिा कस कसंस्थार्गत क
प्रसर् कक किए कमांर्ग कपैशा कहोती कहै कएककि कसाथ क– कसाथ कय कभी कजरूरी कहै ककक कउचचत कस्थािों कपर क24x7
वर्तरण कसर्ाओं कर्ाए कसर्ा ककद्र , डॉक्टरों, मध्य कपस्त्ियों, शर्ाओं कआिश ककी कपयावप्त कसंख्या करह कI मख्
ु या क
रूप कस कय कयह कसनु िस्श्चत ककरता कहै क

 प्रत्यक कबस्ती क(र्गांर् कया क क काहरी कक्षत्र कमद क क कर्ाडव) कको क क ककायावत्मक कस्र्ास््य ककद्र क( क
सार्वजनिक कया कनिजी कसंस्था कस कमान्द्यता कप्राप्त कहै कजहां क24x7 वर्तरण कसर्ा कउपएब्ध कहै ) कस क क
िएंक ककरता कहै कI

 इि ककायावत्मक कस्र्ास््य ककन्द््र कस क क कआाा कया कस्र्स््य ककायवकताव कको किमएािा कI

13 | P a g e
 य कसनु िस्श्चत ककरिा कुनिर्ायव कहै ककक कआाा कसभी कर्गभवर्ती कमिहएाओं कऔर किर्जात किााओ
ु कं की क
जािकारी करख कI सार कर्गभवर्ती कमिहएाओं कऔर किर्जात किााओ
ु कं को क िसी कआर कटीकाकरण ककी क
सवु र्धाओं कका कउपयोर्ग ककरिा कचािह , ुर्गर कस्र्स््य ककद्र कस किहीं कतो कजो कमािसक कस्र्ास््य कऔर क
पोषण किशि कआंर्गिर्ाडी कया कउप कस्र्स््य ककद्र कमद कमिाया कजाता कहै , तब कउपयोर्ग ककर कएद कI

 हर क क कर्गभवर्ती कमिहएा कका किाम कशजव कहोिा कचािह कऔर क क कसक्ष्


ू म कजन्द्म कयोजिा कबिाई कजािी क
चािह कI

 हर क क कर्गभवर्ती कमिहएा कका क िसी ककी कजााँच कक किए कपता कएर्गाया कजाता कहै कI

 हर क क कर्गभवर्ती कमिहएा कक किए क क कप्रसर् कस्थाि कपहए कस किाम कशजव कहोि कक कसमय क
सनु िस्श्चत कककया कजाता कहै कऔर कमिहएा कको कउसक कबार कमद कसचू चत कभी कककया कजाता कहै कI

 क करफरए ककद्र ककी कपहचाि ककी कजाती कहै कऔर कइसक कबार कमद कर्गभवर्ती कमिहएा कको कसचू चत कककया क
जाता कहै कI

 आाा कऔर क ि म कको कय कसनु िस्श्चत ककरिा कचािह ककी कपयावप्त कपैस कर्गभवर्ती कमिहएाओं कको क
ुशा ककरि कक किए कउपएब्ध कहो कI

 आाा कऐस कपयावप्त ककशम कएती कहै कस्जसस कर्गभवर्ती कमिहएाओं कको कसनु िस्श्चत कस्र्स््य ककद्र कक क
िए कपररर्हि कका कआयोजि कहो कसक कI

 आाा कयह कभी कसनु िस्श्चत ककरती कहै ककी कपैस कस्र्स््य ककद्र कमद कुशा ककरि कक किए कउप्एाभ्धा कहों क
और कर्ह कर्गभवर्ती कमिहएाओं कको कपहए कस कसनु िस्श्चत कस्र्स््य ककद्र कपर कए ककर कजा कI

 आाा किकश कसहायता कक करूप कमद करफरए कपररर्हि कक किए , िकश कप्रोत्साहि कऔर कव्यर्हार क
एार्गत किशाा कनिशदे ाों कक कुिस
ु ार कक करूप कमद कप्रशाि कककया कजा र्गा कI

जििी सशशु िुरक्षा काययक्रम (जेएिएिके)


ज स सक क1 कजूि, २०११ कमद कारू
ु कहुआ कथा कस्जसस कर्गभवर्ती कमिहएाओं कऔर कबीमार किर्जात किााओ
ु ं क
को कमफ्
ु त कसवु र्धा कं सार्वजनिक कस्र्स््य कसंस्थाओं कस किमएती कहैं कI य कयोजिा कय कसनु िस्श्चत ककरती कहै क
कक कमफ्
ु त कऔर किक़शिहि ् कसवु र्धा ं कर्गभवर्ती कमिहएाओं कको किामवए कऔर कसीज़ररयि कप्रसर् कक किए क
िमएद कऔर कर्गरीब किर्जात किााओ
ु ं क(कर्ए कजन्द्म कस क३० किशि कतक क) कक कइएाज कक किए कभी कप्रशा कक क
सार कसरकारी कस्र्स््य ककन्द््र ों कमद किमए कI

य कयोजिा कज सर्ाय कक किकश कभर्ग


ु ताि कमद कमशश ककरता कहै कऔर कर्गभवर्ती कमिहएाओं कऔर कबीमार क
िर्जात किााओ
ु ं कक कजब कस कखचदे कव्यय कको ककम ककरि कमद कमशश ककरता कहै कI

14 | P a g e
र्गर्यवती मदिलाओं के िक़
1. मफ्
ु त कऔर कान्द्
ू य कखचव कस कप्रसर् कहोिा क

2. मफ्
ु त कशर्ाइयां कऔर कबाकक कजरूरी कचीजद क

3. मफ्
ु त कजााँच क(खूि, मत्र
ू कपरीक्षण कऔर कुल्रासोिोिाफी कआिश कक किए कआर्श्यकता कक कुिस
ु ार क)

4. स्र्ास््य कसंस्थािों कमद कप्रर्ास कक कशौराि कमफ्


ु त कआहार क(िामवए कप्रसर् कस क3 किशि कतक कऔर क
सीजररयि कस क7 किशि कतक क)

5. खूि ककी कमफ्


ु त कसवु र्धा क

6. मफ्
ु त करांसपोटव कघर कस कस्र्स््य ककद्र कतक, कन्द््र ों कक कबीच करफरए कक कशौराि कऔर ककद्र कस कघर कतक क
छोडि ककी कसवु र्धा कभी क

7. हर कतरह कक कउपयोर्गकताव कप्रभार ककी कछूट क

जन्द्म िे ३० दिि तक िवजात सशशओ


ु ं के िक़

1. मफ्
ु त कऔर कान्द्
ू य कखचव कका कइएाज क

2. मफ्
ु त कशर्ाइयां कऔर कउपभोग्य कर्स्तु ं क

3. मफ्
ु त कजााँच क

4. स्र्ास््य कसंस्थािों कमद कप्रर्ास कक कशौराि कमफ्


ु त कआहार क(िामवए कप्रसर् कस क3 किशि कतक कऔर क
सीजररयि कस क7 किशि कतक क)

5. खूि ककी कमफ्


ु त कसवु र्धा क

6. मफ्
ु त करांसपोटव कघर कस कस्र्स््य ककद्र कतक, कन्द््र ों कक कबीच करफरए कक कशौराि कऔर ककद्र कस कघर कतक क
छोडि ककी कसवु र्धा कभी क

कुपोषण , संक्रमण, कृवष, शस्त, बख


ु ार, िीिमया कआिश कजैसी कबीमाररयों कआई म िसीआई क
रणिीनत कसिहत.

 िाम कस कसभी कबच्चों कऔर किर्जात किााओ


ु ं कको करै क क ककरिा कहोर्गा कताकक कपरू ा कटीकाकरण ककर्रज क
हो क

15 | P a g e
 पहचाि कऔर कऊपर कका कपाएि ककरद , रफरए कऔर कप्रनतरक्षण क( इऍफआई) कक कबाश कप्रनतकूए क
घटिाओं ककी कररपोिटिं र्ग

पररवार नियोजि और र्गर्यनिरोधक


आवश्यक

 िाक्षा, प्ररणा कऔर कपरामाव कको कुपिाि कक किए कउचचत कपररर्ार कनियोजि कक कतरीक कI

 र्गभवनिरोधक कसर्ायों ककी कउप्एाभ्धता कजैस ककॉन्द्डोम, ओरए कवपल्स , इमरजदसी कर्गभवनिरोधक ,
आईयस
ू ीडी क(जहााँ क ि म कको कइसक किए करनिंर्ग कडी कहुई कहै )

 फॉएो कुप कसवु र्धा ं कउि कपात्र कशम्पनतयों कक किए कजो कककसी कपररर्ार कनियोजि कसर्ा कका क
इस्तमाए ककर करह कहैं क(टिमविए क/ कस्पिसंर्ग)

िुरक्षक्षत र्गर्यपात िुववधाएं


आवश्यक

 परामाव कऔर कजरूरत कमद कएोर्गों कक किए कसरु क्षक्षत कर्गभवपात कसर्ा ं क( मटीपी) कक किए कउपयक्
ु त क
रफरए।

 र्गभवपात कक कबाश कककसी ककोस्म्प्एकाि कक कहोि कपर कउसका कफॉएो कुप कI

रोर्गनिवारक िुववधाएं
आवश्यक

 छोटी कबबमाररयों कजैस कबख


ु ार, शस्त, कृवष, कृिम कप्रकोप कक किए कइएाज कऔर कप्राथिमक कचचककत्सा क
सिहत कजािर्र कक ककाटि कक कमामएों कक किए कप्राथिमक कचचककत्सा , टूनिकट क(सांप ककाटि ककी क
स्स्थनत कमद ) कऔर करफरए कI

 उचचत कऔर काीघ्र करफरए कI

वांनित

 आयष
ु कक कुिस
ु ार कइएाज कशद कर्हां ककी कस्थािीय कजरूरत कक कुिस
ु ार कI ि म कऔर क मवपशप्ए कू
को कभी कमए
ू कआयष
ु कशर्ाइयों ककी करनिंर्ग कडी कजा कI

 मािसक कस्क्एनिक कपी चसी कक कमर्डकए कऑकफसर कक कद्र्ारा कस्जसमद क ि म, ए चवर्, परु
ु ष क
स्र्स््य ककायवकताव कभी कमौजश
ू कहों कI

16 | P a g e
ककशोर स्वास््य िे खर्ाल
वांनित

 िाक्षा, परामाव कऔर करफरए।

 रोकथाम कऔर क िीिमया कका कउपचार।

 तंबाकू कक कहानिकारक कप्रभार्ों कऔर कउसकी कसमास्प्त कक किए ककाउं सिएंर्ग कI

स्कूल स्वास््य िेवाएं


आवश्यक

 स्क्रीनिंर्ग, छोटी कबीमाररयों कक कउपचार, टीकाकरण, डी-र्ोमींर्ग, रोकथाम कऔर कप्रबंधि कवर्टािमि क
ककी कऔर कपोषक कतत्र्ों ककी ककमी कस क िीिमया कऔर कमौजश
ू ा क ि म क/ कMPW द्र्ारा कस्कूए कक क
निधावररत किशि कमद करफरए कसर्ा ं कI

 उप-कद्र कक ककमवचाररयों ककी कटीम कक क क कसशस्य कक करूप कमद कस्कूए कस्र्ास््य कसर्ाओं कक किए क
सहायता कप्रशाि ककरद र्ग कI

स्थािीय रोर्गों का नियंत्रण


आवश्यक

 पता कएर्गािा, नियंत्रण कऔर कइस कतरह कक कमएररया, काएाजार, जापािी कइन्द्सफएाइिटस,
फाइएररया, डदर्ग कू आिश कक करूप कमद कस्थािीय कस्थानिक करोर्गों ककी कररपोिटिं र्ग कमद कसहायता ककरिा कI

 कायवक्रम कक किशाा कनिशदे ाों कक कुिस


ु ार कमहामारी कक कप्रकोप कक कनियंत्रण कमद कसहायता।

रोर्ग निर्गरािी, एकीकृत रोर्ग निर्गरािी पररयोजिा (आईडीएिपी)


आवश्यक

 ककसी कभी कुसामान्द्य कशस्त क/ कपचचा, कठोरता कक कसाथ कबख


ु ार, व्यिता कक कसाथ कबख
ु ार, बख
ु ार क
क कमामएों कमद कपीिएया कया कबख
ु ार कक कसाथ कबहोाी कऔर कजल्शी कररपोिटिं र्ग कक कसाथ कसंबध
ं कपी चसी क
को कआईडी सपी किशाा कनिशदे ाों कक कुिस
ु ार कर्वृ ि कक कबार कमद कनिर्गरािी।

 ककसी कभी कक्एस्टर क/ कफैएि ककी कतत्काए कररपोिटिं र्ग कस्यन्द््र ोिमक कनिर्गरािी कक कआधार कपर

 ककसी कभी कुसामान्द्य कस्र्ास््य कघटिा कक किए कसतकवता, ररपोिटिं र्ग कऔर कउचचत ककारव र्ाई कका कउच्च क
स्तर कहो कI

17 | P a g e
 आईडी सपी किशाा कनिशदे ाों कक कुिस
ु ार कपी चसी कको क‘ स’ कफॉमव कमद कसाप्तािहक कररपोटव ककी कप्रस्तट
ु ी क
करिा।

पािी और िफाई व्यवस्था


आवश्यक

 पीि कक कपािी कक कस्रोतों ककी ककीटाणा


ु ोधि

 ाौचाएय कऔर कउचचत ककचरा कनिपटाि कक कउपयोर्ग कसिहत कस्र्च्छता कको कबढ़ार्ा कशिा।

vkWÅVjhp@QhYM lsok xzke LokLF; ,oa iks"k.k fnol ¼VHND½


xzke LokLF; ,oa iks’k.k fnol ¼VHND½ izR;sd xk¡o esa ,d eghus ls de ls de ,d ckj
vk;ksftr fd;k tkuk pkfg,A fpfdRlk vf/kdkjh] LokLF; lgk;d efgyk ¼LHV½] izkFkfed LokLF;
dsUnz] LokLF; dk;ZdrkZ ¼iq:’k@efgyk½] vk'kk ¼ASHA½] vk¡xuckM+h dk;ZdrkZ ¼AWW½ vkSj muds
i;Zo{s kh LVkWQ] iapk;rh jkt] Lo;a lgk;rk lewg vkfn dh enn~ lsA

VHND dh l¡[;k izR;sd cLrh@vk¡xuckM+h dsUnz esa ,d eghus esa de ls de ,d ckj


igq¡pus ds fy, i;kZIr gksuh pkfg,A ANM bu lHkh dk;kZsa ds fy, tokcnsg gksrh gSA iq:’k LokLF;
dk;ZdrkZ ds lkFk ;s ,d mfpr fgLlk dk dke djrh gSaA ykWftfLVDl vkSj laxBu dk nkf;Ro
fo'ks’k :i ls oSDlhu ykWftfLVDl ¼eky½A

izR;sd xzke LokLF; ,oa iks’k.k fnol vk¡xuckM+h dk;ZdrkZ] ANM, ASHA vkSj ykHkkfFkZ;ksa ds
chp de ls de 4 ?kaVs laidZ dk gksuk pkfg,A

xzke LokLF; ,oa iks’k.k fnol ¼VHND½ ij tks lsok,¡ miyC/k djk;h tkuh pkfg,] og uhps
lwphc) gS %&

vko';d %&
 SBA ds ekud mipkj izksVksdkWy ds vuqlkj izkjafHkd i¡thdj.k vkSj xHkZorh efgykvksa ds fy,
izlo iwoZ ns[kHkkyA
 Vhdkdj.k dh vuqlwph ds vuqlkj 5 o’kZ rd ds cPpksa ds fy, Vhdkdj.k vkSj Vitamin-A iznku
djukA
18 | P a g e
 iwjd iks’k.k lsokvksa] LokLF; dh tk¡p vkSj jsQjy lsok,¡] LokLF; vkSj iks’k.k f'k{kk] 6 o’kZ ls de
ds cPpksa ds fy, Vhdkdj.k] xHkZorh vkSj Lruiku djkus okyh ek¡ vkSj ¼15 ls 45 o’kZ dh lewg
dh½ lHkh efgykvksa ds LokLF; vkSj iks’k.k f'k{kk ds fy, ICDS dk;ZØe ds lkFk leUo;A
 ifjokj fu;kstu ijke'kZ vkSj xHkZ fujks/kdksa dk forj.kA
 NksVh chekfj;ksa ds lkFk ASHA / AWW }kjk jsQj fd, gq, ;k LosPNk ls vk, yksxksa ds y{k.k ds
vuqlkj ns[kHkky vkSj izca/kuA
 ekrkvksa] fd'kksjksa vkSj leqnk; ds vU; lnL;ksa tks fdlh Hkh dkj.k ls VHND l= esa Hkkx fy;s
gSa ds fy, LokLF; lans'kA
 vk'kk ¼ASHA½ ds lkFk feyuk vkSj mUgsa izf'k{k.k@lgk;rk vko';drkuqlkj miyC/k djkukA
 tUe vkSj e`R;q dk i¡th;uA

okaNuh;
 t:jr iM+us ij STI / RTI vkSj HIV / AIDS ds lafnX/k ekeyksa esa y{k.k ds fglkc ls ns[kHkky
vkSj ijke'kZ fjQsjy ds lkFkA
 ikuh ds lzkrs ksa dk dhVk.kq'kks/ku vkSj LoPNrk dks c<+kok nsuk] ftlesa 'kkSpky; ds mi;ksx lfgr
dpjk dk fuiVkjk 'kkfey gSA

?kj dk nkSjk %&

vko';d %&
 tUe ds le; dq'kyrk dh mifLFkfr ds fy, tgk¡ efgyk us ;k rks pquk mls gkse fMyhojh ds
fy, tkuk iM+k gSA
 izksVksdkWy ds vuqlkj & izlo ds ckn vkSj uotkr f'k'kq ds fy, nkSjkA
 jksx ds c<+rs ekeys tks fd LokLF; dk;ZdrkZ dks lwfpr fd, tkrs gSa ;k mUgsa ?kj ds nkSjs ds
le; fn[kkbZ nsrs gSa] fo'ks’k :i ls tgk¡ ;g ,d lkspuh; jksx gSA nLr@isfp'k ds ekeyksa esa
vlkekU; o`f)] d¡idikgV ds lkFk cq[kkj] yky pdÙkksa ds lkFk cq[kkj] ¶ySflM iSjkfyfll
¼Flaccid Paralysis½ dk rhoz 'kq:vkr 15 o’kZ ls de mez ds cPpksa esa ¼AFP½] ?kj?kjkgV [kk¡lh]
VsVul] ihfy;k ds lkFk cq[kkj ;k csgks'kh ds lkFk cq[kkj] NksVs vkSj xaHkhj AEFIS tks fd mls

19 | P a g e
?kjksa ds nkSjksa ds le; feyrsa gSa] mUgas rqjar izkFkfed LokLF; dsUnz ds fpfdRlk vf/kdkjh dks
lwfpr djsa vkSj budks QSyus ls jksdus ds fy, vko';d dne mBkukA

okaNuh; %&
 mu ik= nEifr;ksa dks] ftUgsa ;k rks xHkZfujks/kd lsokvksa dh t:jr gS ysfdu orZeku esa mi;ksx
ugha dj jgs gSa tSls fd os nEifr ftuds cPps rhu o’kZ ls de mez ds gSa] tgk¡ efgyk,¡ fookfgr
gSa vkSj 19 o’kZ ls de vk;q gSa] tgk¡ ifjokj iw.kZ gS vkfnA
 og ekeys tks ulcanh vkSj MTP ls xqtjs gSa] fo'ks’k :i ls os tks vLirky ugha vk ldrs]
mudh tk¡p djukA
 समशु ाय कक कडॉट्स कप्रोर्ाइडर कर् कएप्रोसी कर्डपो कहोल्डर कक कपास कवर्स्जट ककरद I क

 IPHS क िशाानिशदे ा क क क ुिुसार क स्र्ास््य क सर्ायद क जैस क प्रनतरक्षण, क ANC, क TB क आिश क का क

रर्गए
ु र कउपचार किा कएि कर्ाए करोर्गी कको कपरामाव कशि कमद कASHA कको कमशश ककरिाI क

 कमएररया ककक कसंभार्िा कहोि कपर करक्त कस्एाइड्स कबिािा क र्ं कRDK कजांच ककरिा कI क

?kj dk nkSjk %&


यह कभ्रमण कसाए कमद क क कबार कुप्रैए कमद कहोिा कचािह I ककुछ कबबमाररयों कमद कप्रनत कसप्ताह कवर्ाष कसर्दे ककी क
आर्श्यकता कहोती कहै क– कपरन्द्त कु क कमहीि कमद क क कस कुचधक कसर्दे ककी कउम्मीश किहीं ककी कजाती कहैI कआाा,
आंर्गिर्ाडी ककायवकतावओ,ं स्र्यंसर्कों कसमश
ु ाय,पंचायत कसशस्यों कऔर किाम कस्र्ास््य कस्र्च्छता कऔर कपोषण क
सिमनत कक कसशस्य ककी कमशश क र्ं कभार्गीशारी कस कसर्दे कहोर्गाI कपरु
ु ष कस्र्ास््यकताव कइि कसर्दे कको कआयोस्जत क
करद र्ग क र्ं कआर्ग करफरए क र्ं किएस्ट कबिायदर्ग कI क

आवश्यक

 पररर्ार कक कसभी कसशस्यों ककी कआय कु र्ं किएंर्ग कI क

 पररर्ार कनियोजि ककी कआर्श्यकता कक कुिुसार कपात्र कजोडो ककी किएस्ट कबिािा

 त्र्चा क क क घार्ों क या क ुन्द्य क उच्च क कुष्ट्ठ क रोर्ग क कुष्ट्ठ क रोर्ग क क क एक्षण क र्ाए क एोर्गो क को क रफर क

करिा कI कयह कउच्च ककुष्ट्ठ करोर्ग कप्रसार कर्ाए कब्एॉक कमद कआर्श्यक कहै कI क

20 | P a g e
 ुंधापि क र्ाए क एोर्गो क को क पहचाििा क र्ं क िएस्ट क बिािा क र्ं क रफर क करिाI क श्रर्ण क बाचधत क

व्यस्क्तयों/ कबहरापि कर्ाए कएोर्गो ककी कपहचाि क र्ं कसूची कबिािा कI क

 फाइएररया क ंडिमक कक्षत्र कमद कर्ावषवक करूप कस कबड कपैमाि कपर कशर्ा कका कवर्तरण ककरिा कI क

वांनित

 वर्कएांर्ग कएोर्गों कको कपहचािद क र्ं कसच


ू ी कबिायद क र्ं करफर ककरद I कजहां कजरूरत कहो कपरामाव कप्रशाि ककरद क
I
 र्ररष्ट्ठ किार्गररकों कको कपहचाि कस्जन्द्हद कवर्ाष करखरखार् क र्ं कमशश ककक कजरुरत कहै I क
 माििसक कस्र्ास््य कसमस्याओं क र्ं किमर्गी कर्ाए कएोर्गो ककी कसच
ू ी कबिा ं क र्ं कपहचाि कI क
 उच्च क ंडिमक कक्षत्र कमद कनिम्ि कक किए कसर्दे क र्ं कप्रबंधि ककरिा क- ककाएा कुजार कबख
ु ार, कमएररया, क
फ्एोरोिसस कआिश कI
 ुन्द्य कहो कसकि कर्ाए करोर्गों/बीमाररयों ककी कसच
ू ी कबिा ं क र्ं करफर ककरद I क क

िामि
ु ानयक स्तरीय बातचीत

आवश्यक

 स्र्ास््य कसम्बन्द्धी कसच


ू िाओ कको क कत्र ककरि कर् कयोजिा कक किए कसमह
ू कमद कचचाव ककरिाI क
 िाम कस्र्ास््य कस्र्च्छता कऔर कपोषण कसिमनत ककी कबैठकों, आाा, कस्थािीय कसमीक्षा कबैठकों क
और कपंचायत कक कसाथ कबैठकों कसशस्यों क/ कसरपंच, स्र्यं कसहायता कसमूह, मिहएा कसमूहों क
और कुन्द्य कBCC कर्गनतवर्चधयों कक कमाध्यम कस कस्र्ास््य कक कबार कमद क,वर्ाष करूप कस क
राष्ट्रीय कस्र्ास््य ककायवक्रमों कक कबार कमद कसंशा कशिाI

िमन्द्वय और निर्गरािी
र्गांर् क क क AWWs, आाा, स्र्ास््य क स्र्च्छता क र्ं क पोषण क सिमनत क पंचायती क राज क आिश क साथ क
सर्ाओं कको कसमस्न्द्र्त ककरिा कI क

21 | P a g e
राष्ट्रीय स्वास््य काययक्रम

िंचारी रोर्ग काययक्रम

अ)राष्ट्रीय एड्ि नियंत्रण काययक्रम (NACP):


आवश्यक

 ू ों कक किए ककंडोम कको कबढ़ार्ा कशि कऔर ककंडोम कका कवर्तरण।


उच्च कजोणखम कर्ाए कसमह
 HIV/ कAIDS करोर्गी ककी कसहायता ककरिा क र्ं कउिका किशाानिशदे ा कशिा कI क
 IEC ककक्रयाओ कक कमाध्यम कस कSTIs,HIV/AIDS, PPTCT क र्ं कHIV-TB कक किए कजार्गरूकता कबढ़ािा क
र्ं कबचार् कक कसझ
ु ार् कशिा कI
वांनित

 चआईर्ी-टीबी कक किए कमाइक्रोस्कोपी ककद्र कक कसाथ कसंबध
ं क र्ं कसमन्द्र्य।
 चआईर्ी क/ क सटीआई कपरामाव, स्क्रीनिंर्ग कऔर करफरए किप
ु कबी कउप-कन्द््र ों कमद क(स्जएों कमद कस्क्रीनिंर्ग
जहां क चआईर्ी क/ क ड्स कक कप्रसार कुचधक कहै )।

ब)राष्ट्रीय वेक्टर जनित रोर्ग नियंत्रण काययक्रम (NVBDCP):

आवश्यक

 बख
ु ार कक करोचर्गयों ककी कब्एड कस्एाइड कका कसंिहI क
 उच्च कपी फ कस्थानिक कक्षत्रों कमद कपी फ कमएररया कक कनिशाि कक किए करै वपड कडायग्िोस्स्टक कटस्ट क
(RDT) ।
 आईईसी कऔर कसामश
ु ानयक कभार्गीशारी कक कमाध्यम कस क कीकृत कर्क्टर कनियंत्रण कक किए कवर्ाष क
क्षत्रो कमद कमएररया, फाइएररया, कJE, कडदर्ग,ू काएाजार कआिश ककी करोकथाम कक किए कप्रचार ककरिा क र्ं क
प्रोत्सािहत ककरिाI क कजहााँ कफाइएररया क ंडिमक कहै कर्हााँ किएम्फोडमा/ िएफदटाईिटस क र्ं कहाईड्रोिसए क
की कपहचाि ककरिा क र्ं कPHC/CHC कमद करफर ककरिाI कNVBDCP कक किशाानिशदे ा कका कपाएि क
करिा क
 Diethycarlamazine ¼DEC½ dh ,dy [kqjkd lHkh ;ksX; turk tks ¼Lymphatic Filariasis½
Qhyik¡o gkFkhik¡o ds [krjs esa gSa okf’kZd cM+s iSekus esa fiykukA
 tgk¡ vkiwfrZ dh xbZ gS ogk¡ dhVuk'kd ds }kjk bykt fd, gq, usV dk mi;ksx dks c<+kok
nsukA
 dk;ZØe ds fn'kkfunsZ'kksa ds vuqlkj fjdkMZ j[kuk vkSj fjiksfVZax djukA

22 | P a g e
C) jk"Vªh; dq"B mUewyu dk;ZØe ¼NLEP½ %&
vko';d %&
 dq’B jksx ds ladsr vkSj y{k.k] mldh tfVyrkvks]a lk/; vkSj eq¶r bZykt dh miyC/krk ds ckjs
esa leqnk; dks LokLF; f'k{kk nsukA
 dq’B jksx ds lafnX/k ekeyksa ¼O;fDr ftudh Ropk esa pdÙks ¼nodule½ xk¡B] eksVh peM+h] gkFk vkSj
iSj esa laons uk [kjkc gksuk] ek¡lisf'k;ksa ds detksjh ds lkFk½ vkSj muds tfVyrkvksa dks izkFkfed
LokLF; dsUnz esa jsQjy djukA
 ,e-Mh-Vh- ¼MDT½ ds vkxkeh [kqjkd vkSj tks yksx dq’B jksx ds bZykt ys jgs gSa mudh tk¡p
¼follow up½ dk izko/kku] fjdkMZ cuk, j[kuk vkSj bZykt dh fu;ferrk vkSj iwjs gksus dh
fuxjkuhA

C) la’kksf/kr jk"Vªh; {k; jksx fu;a=.k dk;ZØe ¼RNTCP½ %&


vko';d %&
 lansg izrhd ekeyksa dk izkFkfed LokLF; dsUnz@ekWbØksLdksih lsUVj esa jsQjyA
 MkWV~l ¼DOTS½ dk mi&LokLF; dsUnz esa izko/kku] mfpr izy[s ku vkSj vuqorhZ ¼follow up½A
 lHkh ekeyksa esa lko/kkuh lqfuf'pr djuk pkfg, fd bZykt dk vuqikyu vkSj iw.kZrk gks jgh gSA
 i;kZIr ek=k esa ihus dk ikuh nok ysus ds fy, mi&LokLF; dsUnz esa lqfuf'pr fd;k tkuk
pkfg,A

okaNuh; %&
 xzkeh.k] vkfnoklh] igkM+h vkSj eqf'dy txgksa tgk¡ euksuhr ekWbØksLdksih dsUnz RNTCP
fn'kkfunsZ'kksa ds vuqlkj miyC/k ugha gS] ogk¡ Fkwd ¼[k[kkj½ ds uewuksa dk laxzg vkSj ifjogu ds
fy, Fkwd laxzg dsUnz LFkkfir djukA

xSj laØked jksx ¼NCD½ dk;ZØe %&


a) jk"Vªh; va/kRo fu;a=.k dk;ZØe ¼NPCB½ %&
vko’;d %&
 nqcZy n`f’V ds ekeyksa dk ?kj&losZ{k.k esa tk¡p vkSj mfpr jsQjyA de n`f’V okys ekeyksa dks
va/kkiu okys jftLVj esa fy[kukA

23 | P a g e
 vk¡[kksa dh leL;kvksa] n`f’V esa deh dk 'kh?kz irk yxkuk] miyC/k mipkj vkSj LokLF; dsUnz bu
ekeyksa ds jsQjy ds fy, izlkj djukA va/ksiu ds ekeyksa dk irk yxkus vkSj lafnX/k
eksfr;kfcUn ds ekeyksa ds jsQjy esa IEC ,d izeq[k lgk;d xfrfof/k gSA

okaNuh; %&
 ftyk vLirky esa eksfr;kfcUn ds ekeyksa dks MPW@,-,u-,e- vkSj vk'kk ykrh gSaA
 Ldwyh cPpksa dh n`f’V esa deh vkSj LØhfuax rFkk jsQjy esa lgk;rk djukA

b) cf/kjrk ds jksdFkke vkSj fu;a=.k ds fy, jk"Vªh; dk;ZØe ¼NPPCD½ %&


vko’;d %&
 cf/kjrk Jo.k nqcZyrk dk ?kj losZ{k.k ds nkSjku irk yxkuk vkSj mudk mfpr jsQjyA
 dku dh leL;kvksa] cf/kjrk dk tYnh irk yxkuk] miyC/k mipkj vkSj LokLF; dsUnzkas esa ,sls
ekeyksa ds jsQjy ds fy, tkx:drk QSykukA
 lgh Hkkstu izFkkvksa ds egÙo] NksVs cPpksa esa cf/kjrk dk tYnh irk yxkuk] lkekU; dku dh
leL;kvksa vkSj Jo.k nqcZyrk@cf/kjrk ds bZykt lacfa /kr leqnk; fo'ks’k :i ls NksVs cPpksa ds
ekrk&firk dks f'kf{kr djukA

c) jk"Vªh; ekufld LokLF; dk;ZØe %&


vko’;d %&
 lkekU; ekufld chekfj;ksa dh igpku vkSj jsQjy bZykt ds fy, vkSj mudk leqnk; esa mudh
tk¡pA
 ekufld fodkjksa ds jksdFkke vkSj tYnh irk yxkus ds fy, IEC leku vkSj ekufld fodkjksa ds
izkFkfed jksdFkke ds fy, leqnk; dk T;knk Hkkxhnkjh vkSj HkwfedkA

d) dSalj] e/kqesg] ân; jksx vkSj vk?kkr ds jksdFkke vkSj fu;a=.k ds fy, jk"Vªh; dk;ZØe
vko’;d %& IEC xfrfof/k;k¡ LoLFk thou 'kSyh dks c<+kok nsus] dSalj] e/kqegs ] ân; jksx vkSj
vk?kkr ds jksdFkke ds fy, leqnk; dks tkx:d cukus] psrkouh ds ladsrksa dh tkx:drk ls tYnh
irk yxkus vkSj lafnX/k ekeyksa dk mfpr vkSj 'kh?kz jsQjy ds fy,A

e) vk;ksMhu dh deh ds fodkjksa ds fu;a=.k ds fy, jk"Vªh; dk;ZØe %&

24 | P a g e
vko’;d %&IEC xfrfof/k;k¡ vk;ksMhu ;qDr ued dh [kir dks leqnk; }kjk c<+kok nsus ds fy,A
vk'kk ds }kjk lkYV VsfLVax fdV ds ek/;e ls vk;ksMhu dh mifLFkfr dk ijh{k.k djukA

f) ¶yksjksfll izHkkfor ¼LFkkfud½ {ks=ksa esa %&


vko’;d %&
 tks O;fDr ¶yksjksfll ds [krjs esa gSa] tks ¶yksjksfll ls xzflr gSa vkSj os ftUgsa ¶yksjksfll vkSj
jsQjy dh otg ls fod`fr gS mudk irk yxkukA

okaNuh; %&
 iqufuZekZ.k ltZjh ds ekeyksa] iquokZl baVjosa'ku ¼Intervention½ xfrfof/k;ksa vkSj jsQjy lsokvksa dh
ykbu fyfLVax djukA
 ¶yksjksfll jksdus ds fy, QksdLM O;ogkj ifjorZu lapkjA

g) jk"Vªh; rEckdw fu;a=.k dk;ZØe %&


vko’;d %&
 rackdw ds bLrseky ds cqjs izHkkoksa ds ckjs esa fo'ks’k :i ls xHkZorh efgykvksa vkSj xSj&laØked
chekfj;k¡ tgk¡ rackdw ,d [krjs dk dkjd gS tSls& ân; jksx] dSalj] iqjkuh QsQM+ksa ds jksxksa ds
laca/k esa tkx:drk vkSj LokLF; f'k{kk nsukA
 mi LokLF; dsUnz esa **uks Leksfdax** vfuok;Z lkbust iznf'kZr gksukA

okaNuh; %&
 rackdw NksMus ds fy, ijke'kZA
 /kweziku lkoZtfud LFkkuksa ij izfrcaf/kr gS vkSj ukckfydksa ¼18 o’kZ ls de mez ds cPpksa dks½ vkSj
Ldwyksa rFkk 'kSf{kd laLFkkuksa ls 100 xt dh nwjh rd rackdw mRiknksa dh fcØh izfrcaf/kr gSA
blls turk dks tkx:d djukA
 /kweziku eqDr lkoZtfud LFkkuksa ds dkuwu ds ckjs tkx:drk QSykukA

h) ekSf[kd LokLF; %&


vko’;d %&
 ekSf[kd LokLF; vkSj LoPNrk ij LokLF; f'k{kk fo'ks’k :i ls izlo iwoZ vkSj Lruiku djkus
okyh ekrkvksa ds fy,] Ldwy vkSj fd'kksj cPpksa ds fy,A

25 | P a g e
 ekSf[kd LokLF; leL;kvksa ds ekeyksa ds fy, izkjafHkd fpfdRlk vkSj jsQjy lsok,¡ iznku djukA

i) fodykaxrk dh jksdFkke %&


vko’;d %&
 fodykaxrk dh jksdFkke ds fy, LokLF; f'k{kkA
* कर्ावषवक कर्गह
ृ कसर्देक्षण कक कशौराि कवर्कएांर्ग कएोर्गों कका कपता कएर्गािा कऔर कउिका कउचचत करफरएI

ज) बुज़ुर्गय के स्वास््य कक िे खर्ाल के सलए राष्ट्रीय काययक्रम –

वांििीय

 बुज़ुर्ग कव व्यस्क्तयों कऔर कउिक कपररर्ार कक कएोर्गों कको कउम्र कबढ़ि कक कसम्बन्द्ध कमद कपरामाव कI क
 बीमार कर्ि
ृ कव्यस्क्तयों कका कPHC कमद करफरएI

ओषधीय जड़ी बट
ू ी का प्रचार

वांििीय:- कआयुष कवर्भार्ग कक किशाानिशदे ा कक कुिुसार कउप-स्र्ास््य ककद्र कक कचारो कओर कस्थािीय क
स्तर कपर कउपएब्ध कऔषधीय कजडी क–बिू टयों/ कपौधों कको कएर्गिा कचािह I क

मित्वपूणय घटिाओ का ररकॉडय

आवश्यक:- जन्द्म कओर कमत्ृ यु कवर्ाष करूप कस कमाताओं कओंर किााुओं ककी कररकॉर्डिंर्ग कऔर कररपोिटिं र्ग क
स्र्ास््य कुचधकारीयों कको ककरिा कI क

26 | P a g e
मैिपॉवर (जि-ताकत)
उपस्वास््य केंर उपस्वास््य केंर A उपस्वास््य केंर B (MCH उपकेन्द्र)
का प्रकार
स्टाफ Essential/ Desirable/ Essential/ Desirable/
अनिवार्य वाांनित अनिवार्य वाांनित
ANM/ कस्र्ास््य क 1 +1 2
कायवकताव क(मिहएा)
स्र्ास््य ककायवकताव क 1 1
(परु
ु ष)
स्टाफ किसव( कया क 1**
ANM, कयिश कस्टाफ क
िसव किहीं कहो)
सफाई ककमवचारी* क 1 क(ुंाकािएक) 1 क(पण
ू क
व ािएक)

*
आउटसोसव कककया कजा कसकता कहै

**
उप-कन्द््र कपर कप्रसर् ककी कसंख्या क क कमहीि कमद क20 कया कउसस कुचधक कहै , तो

उप-कन्द््र क कमद कप्रशाि ककक कजाि कर्ाएी कसर्ाओं कको कसुनिस्श्चत ककरि कक किए ककमवचाररयों ककी क
उपएब्धता कक कपैटिव कक कुिुसार कसर्ाओं कको कबशएा कजा कसकता कहै I कर्हााँ कजहां ककर्ए क क कANM क
है , कप्रजिि क र्ं कबाए कस्र्ास््य कसर्ाओं कको कप्राथिमकता कशी कजा र्गी कI कउप-कन्द््र ककी ककायव क
उत्पाशकता कबढ़ि कक किए कुच्छी कएोस्जस्स्टक कव्यर्स्था कका कहोिा कजरूरी कहै I क

िोट- कANM, स्र्ास््य ककायवकताव क(पुरुष) कऔर कस्टाफ किसव क(यिश, कहै क) क कक ककायों कका कवर्र्रण क
ुिुबंध क2 कमद किशया कर्गया कहै ।

र्ौनतक मल
ू ठांचा
क कउप-स्र्ास््य ककद्र ककी कुपिी कइमारत कहोिी कचािह कI कयिश कयह कसंभर् किहीं कहै कतो कपररसर कक क
साथ कपयावप्त कजर्गह कको ककन्द््र ीय कजर्गह कमद कजहााँ कआबाशी कका कपहुंचिा कआसाि कहो कर्हााँ कककराय कप क
एिा कचािह कI कराज्य कको कजर्गह कक किए कुन्द्य कस्र्ास््य ककायवक्रमों कऔर कधि कस्रौतो कस कवर्कल्प क
तएासि कचािह कI

27 | P a g e
केंर का स्थाि

 सभी कि कआर्गामी कउप-कन्द््र ों कक किए कनिम्ि कसुनिस्श्चत ककरिा कचािह क:-

 उप-स्र्ास््य ककन्द््र ों कको कर्गााँर् कक कभीतर कस्स्थर कहोिा कचािह कताकक कर्हााँ कएोर्गो कका कपहुंचिा क
आसाि कहो कओर कANM कसुरक्षक्षत कहो कI

 जहााँ कतक कसंभर् कहो क, कककसी कभी कव्यस्क्त कको कउप-स्र्ास््य ककद्र कपहुाँचि कमद क3 कkm कस क
ज्याशा कसमय किहीं कएर्गिा कचािह कI क

 उप-स्र्ास््य ककद्र कर्गााँर् कमद ककुछ कसंचार कका कमाध्यम कहोिा कचािह क(सडक क
संचार/सार्वजानिक कपररर्हि क/पोस्ट कऑकफस/ कटएीफोि).

 उप-स्र्ास््य ककद्र ककचर कसंिहण, कपाु काड क, कजए कजमार् कक्षत्र कस कशरू कहोिा कचािह कI

 जब कउप-स्र्ास््य ककद्र कक किए कस्थाि कको कतय कककया कजा करहा कहो कतब कसम्बंचधत कपंचायत क
की कभी कसएाह कएी कजािी कचािह कI

र्वि निमायण और िक्शा बिािा


 चारिीवारी / बाड़ लर्गािा: सुरक्षा क क क िए क शरर्ाज क क क साथ क चारशीर्ारी क / क बाड क एर्गािा क

चािह I

 एक आिशय उप-कद्र कमद क ANM कक करहि कक किए कसुवर्धा कहोिी कचािह , कहएाकक कबहोत कस क

मद किहीं कहोती कहै कऐस कमद कउसी कर्गााँर् कमद कउसक करहि ककक कव्यर्स्था कहोिी कचािह कI क

 पुरुष कस्र्ास््यकताव क क किए कभी करहि ककक कव्यर्स्था कहोिी कचािह , कइसक किए कउपकन्द््र क

की कछत कपर कभी कघर कबिा कसकत कहै I कउपकन्द््र ककी कस्स्थनत कइस कतरह कस कहोिी कचािह ककी क

आसािी क स क एोर्ग क पहुाँच क सकI क वर्कएांर्ग क र्ं क र्ि


ृ क एोर्गो क कक क सुवर्धा क क क िए क रिएंर्ग क र् क

व्हीए ककुसी क ककक कव्यर्स्था कहोिी कचािह I क

 उपकन्द््र क र्ं कANM कक कघर कका कआकर कुएर्ग कुएर्ग कस्थािों कमद कुएर्ग कुएर्ग कहो कसकता क

है , कउपएब्ध कजमीि कक कआधार कपर कI

28 | P a g e
 ANM कक कघर कका क र्ं कउपकन्द्श कमद कप्रर्ा कका कद्र्ार कुएर्ग कहोिा कचािह कI

 B क–टाइप कक कउपकन्द््र कमद क4-5 ककमर कनिम्ि कसुवर्धाओ कक कसाथ कहोि कचािह क-

o प्रनतकक्षाएय
o क कप्रसर् कका ककमरा कप्रसर् कटबए क र्ं किर्जात ककोि कक कसाथ क
o क ककमरा कस्जसम कशो कस कचार कबबस्तर कहो क(स्जि कउपकद्र ों कमद कप्रसर् ककक कसंख्या क
20 कया कज्याशा कहै , ककम कस ककम क4 कबबस्तर कहोि कचािह )
o क कस्टोर करूम क
o क ककमरा कस्क्एनिक/ कऑकफस कक किए क
o क काौचाएय कप्रसर् करूम कमद क र्ं क क कप्रनतकक्षाएय कमद क(आर्श्यक)I क

आवािीय व्यवस्था
स्र्ास््यकायवकताव कक किए कउपकन्द््र कमद कआर्ास कहोिा कचािह कस्जसम क२ ककमर, करसोई, कबाथरूम क र्ं कपािी क
टैंक ककी कव्यर्स्था कहो कI क क कANM कक कआर्ास कमद कनिम्ि कव्यर्स्था कहोिी कचािह क–

कमरा क- 1 (3.3 m x 2.7 m)


कमरा क - 2 (3.3 m x 2.7 m)
रसोई क - 1 (1.8 m x 2.5 m)
पािी कटैंक क (1.2 m x 9.0 m)
बाथरूम क (1.5 m x 1.2 m)

टाइप कB क(MCH) कउपकन्द््र कमद ककम कस ककम क२ कस्टाफ ककक कव्यर्स्था कहोिी कचािह क, क3 कस्टाफ कक किए कयह क
व्यर्स्था कर्ांनछत कहै कI

क कआशाव कटाइप कA कउपकन्द््र कमद कANM कका कआर्ास क85 कस्क्र्ायर कमीटर कमद कहोिा कचािह क र्ं कटाइप कB क
उपकन्द््र कमद कुनतररक्त क65 कस्क्र्ायर कमीटर किाउं ड कफ्एोर कमद कहोिा कचािह क र्ं क१२५ कस्क्र्ायर कमीटर कफस्टव क
फ्एोर कमद कहोिा कचािह कI कुिब
ु ध
ं क3 कमद कक्षत्र/स्थाि कक कबार कमद किशया कर्गया कहै I क

चचन्द्ि
 भर्ि कक कर्गट कपर कस्पष्ट्ट कउपकन्द््र कका कबोडव कहोिा कचािह कजो ककक कस्थािीय कभाषा कमद किएखा कहो कI
 ुच्छी कतरह कस किशखाई कशि कर्ाए कक्षत्र कमद कस्थािीय कभाषा कमद कप्रशाि ककी कजाि कर्ाएी कसर्ाओ क र्ं क
समय कक कबार कमद किएखा कहोिा कचािह कI
 ANM कक कशौर कका कसमय किएखा कहोिा कचािह कI
 सझ
ु ार्/िाकायत कबॉक्स करोर्गी/ कवर्स्जट ककरि कर्ाए कएोर्गो कक किए कहोिा कचािह कI कसाथ कही क
िाकायत कसि
ु ि कर्ाए कव्यस्क्त कक कबार कमद कभी कसच
ु िा कशी कजािी कचािह I क क

29 | P a g e
आपिा प्रबंधि उपाय आर्ग, बाढ़ एवं र्क
ू ं प की स्स्थनत में
(सभी कि कआर्गामी कसवु र्धाओं कक किए कर्ांछिीय)

 भक
ू ं प कस कबचार् क: कउपकन्द््र कक कभर्ि ककक कआंतररक कसंरचिा कआपशा कस कबचि कक ककाबबए कहोिी क
चािह कवर्ाषतौर कस कभक
ू ं प कस कबचि कयोग्य कI कभौर्गोिएक क र्ं कराज्य कद्र्ारा किश कर्ग किशाानिशदे ा क
क कुिस
ु ार कसंरचिात्मक कऔर कर्गैर कसंरचिात्मक कतत्र्ों कको कबिाया कजािा कचािह कI कर्गैर-ढांचार्गत क
सवु र्धा ं कजैस कुएमाररयों ककक कव्यर्स्था, कउपकरण कआिश कभी कइमारतों कक कसंरचिात्मक कपररर्तवि क
की कतरह कमहत्र्पण
ू कव है ।
 बाढ़ कस कबचार् कहो कइसक किए कउपकन्द््र कको कढ़ाए कपर किहीं कस्स्थत कहोिा कचािह कI क
 ुस्ग्िामि कउपकरण क- कआर्ग कबझ
ु ाि कका कयंत्र क, करत कबाल्टी क आिश कजरूरत कक किए कउपएब्ध कहोिा क
चािह I क
 स्र्ास््य ककमवचाररयों कको कआपशा कप्रबंधि कक कपहएओ
ु कं र्ं करोकथाम कक किए कुच्छी कतरह कस
प्रिाक्षक्षत कककया कजािा कचािह I क

पयायवरण के अिक
ु ू ल िवु वधाएं

उपकन्द््र कको कजहााँ कतक कसंभर् कहो कपयावर्रण कक कुिुकूए क र्ं कउजाव कबचाि कर्ाएा कहोिा क
चािह कI कबाररा कक कपािी कका कसंिहण, कसौर कऊजाव कका कउपयोर्ग कऔर कऊजाव कबचत कर्ाए क
बल्बों कका कउपयोर्ग कक किए कप्रोत्सािहत कककया कजािा कचािह ।

फिीचर
उपकन्द््र कमद कपयावप्त कमजबूत क र्ं कआसि करखरखार् कर्ाए कफिीचर कउपएब्ध कहोि कचािह I क
फिीचर ककक किएस्ट कुिुबंध क4 कमद कशी कर्गयी कहै कI क

उपकरण
उपकन्द््र कमद कआर्श्यक कसभी कसर्ाओ कको कप्रशाि ककरि कर्ाए कपयावप्त कउपकरण कहोि कचािह , क
इसमद कर्ो कसभी कउपकरण कआत कहै कजो क क कसुरक्षक्षत कप्रसर् कक किए कआर्श्यक कहोत क
है (टाइप कB कउपकन्द््र कमद क) क र्ं कघर कप्रसर् क( कटाइप कA कर् कटाइप कB क)मद , कटीकाकरण क
मद ,पररर्ार कनियोजि कजैस कIUD कप्रवर्ष्ट्ट कआिश कI कइसक कआएार्ा कप्रथम कउपचार क र्ं क
आपातकाएीि कस्स्थनत कमद कउपचार, कपािी कर्गण
ु र्त्ता कजांच, कब्एड कस्मीयर ककएक्ाि ककी क
30 | P a g e
सुवर्धा कभी कहोिी कचािह कI कउपकरणों कका करखरखार् कभी कसुनिस्श्चत कहोिा कचािह कजसस क
की कसर्ाओ कमद कव्यर्धाि किा कहोI कुिुबंध क5 कमद कसभी कउपकरण ककी कसूची कशी कहुई कहै कI कसभी क
उपकरण कक किए क ककीटाणुमुक्त ककरि ककक ककक्रया कहोि कचािह क र्ं कसभी कयूनिर्सवए कवर्चध क
सुनिस्श्चत कहोिी कचािह कI

िवाइयां
ुिुबंध क6 कक कुिुसार कशर्ाइयां कउपएब्ध कहोिा कचािह क र्ं कसही कररकॉडव कतथा कस्टोक क
बिाय करखिा कचािह कI क

मिि की िेवाएं
प्रयोर्गशाला: निम्ितम कसुवर्धा ाँ कजैस क– कमूत्र कपररक्षण कर्गभावर्स्था कमद , किहमोग्एोबबि ककएर कस्कए क
(कर्ए कुिुमोिशत कजााँच कपट्टी कक कद्र्ारा क) कक कमाध्यम कस कहीमोग्एोबबि ककी कजांच, कर्डपस्स्टक क
उपएब्ध कहोि कचािह कमूत्र कमद कप्रोटीि कर् कसुर्गर ककक कजांच कक किए क(शर्ाई कक कउत्पाशको कद्र्ारा क
प्रशाि ककक कर्गयी कसूचिाओ कका कपाएि कहोिा कचािह )

बबजली: कजहां कभी कसुवर्धा कमौजूश कहै , निबावध कबबजएी ककी कआपूनतव कसुनिस्श्चत कककया कजािा कचािह क
है I कइसक किए क कइन्द्र्टव र ककी कसुवर्धा क/ कसौर कऊजाव ककी कसुवर्धा कप्रशाि ककी कजािी कचिहयI किुप कबी क
उप-कन्द््र ों कमद कजिरटर कसुवर्धा कउपएब्ध ककराया कर्गयी कहै ।

पािी: मरीजों कऔर ककमवचाररयों कक किए कपीि कयोग्य कपािी कऔर कुन्द्य कउपयोर्ग कक किए कपािी क
पयावप्त कमात्रा कमद कहोिा कचािह कI कपयावप्त कपािी कआपनू तव कऔर कजए कभंडारण कसवु र्धा क(ओर्र कपाइप क
पािी कटैंक) कबिाया कजािा कचािह , कवर्ाष करूप कस कजहां कप्रसर् ककमरा कहै कI ककफल्टसव कर् कक्एोरीिाि क
आिश कक कद्र्ारा कसाफ कपािी ककक कउपएब्धता कसुनिस्श्चत ककी कजािी कचािह I कपंचायत कद्र्ारा कपािी क
का कस्रौत कउपएब्ध ककराया कजािा कचािह कजहााँ कसंभर् कहो किएकूप ककी कसुवर्धा कशी कजािी कचािह कI क
निरं तर कपािी ककी कआपूनतव कक किए कराज्यों कको, कर्षाव कजए कसंचयि,सौर कऊजाव कद्र्ारा कचएि कर्ाए क
पम्प कआिश कका कपता कएर्गािा कचािह कI

31 | P a g e
टे लीफोि: कटाइप कबी कउप-कन्द््र ों कमद कएैंडएाइि कटएीफोि ककी कसुवर्धा कप्रशाि ककी कजािी कचािह ।

िनु िस्श्चत रे फेरल सलंकेज: र्गभावर्स्था कया कप्रसर् कक कसमय कआपात कस्स्थनत कमद कPHC/FRUs क क
रफर ककरि कक किए कसरकारी कया कPPP कमॉडए कक कद्र्ारा कसमय कस किमएि कर्ाएी कसवु र्धा क
सनु िस्श्चत ककक कजािी कचािह कI क

शौचालय: करोचर्गयों क/ कपररचाररकाओं कऔर कउप-कद्र कक ककमवचाररयों कक कउपयोर्ग कक किए काौचाएय क


की कसुवर्धा कसभी कउप-कन्द््र ों कमद कप्रशाि कककया कजािा कचािह I किुप कबी कउप-कद्र कक कमामए कमद ,
क कुनतररक्त काौचाएय ककी कसुवर्धा कप्रसर् ककमर कमद क र्ं कर्ाडव कमद कभी कप्रशाि कककया कजािा कचािह क
है । काौचाएय ककी कनियिमत कसफाई कसुनिस्श्चत कककया कजािा कचािह ।

अपसशष्ट्ट निपटाि

स्र्ास््य कऔर कपररर्ार ककल्याण कमंत्राएय, सरकार कभारत द्र्ारा कुपिाष्ट्ट कपशाथो कक कप्रबंधि क र्ं क
संक्रमण कनियंत्रण कक किए कउपकन्द््र कमद कस्र्ास््य ककायवकताव कक किए किशाानिशदे ा किश कर्ग कहै कI क
प्रनत कजैर् कचचककत्सा कुपिाष्ट्ट क(प्रबंधि कऔर कहैंडिएंर्ग) कको कर्गहराई कमद कशफिाि, कवपट कक किए क
मािक कनियम, 1998 कुिब
ु ंध क7 कपर किशया कर्गया कहै कI क

ररकाडय के रखरखाव और ररपोदटिं र्ग


उपकन्द््र कद्र्ारा कप्रशाि ककी कजाि कर्ाएी कसर्ाओ कका कसही करखरखार् क र्ं कप्रबंधि कहोिा कचािह कI कउप-कद्र क
क्षत्र कस कप्राप्त करुग्णता क/ कमत्ृ य कु शर कडटा कस्र्ास््य ककी कस्स्थनत कका कआकएि ककरि कक किए कआर्श्यक कहै
इसक कुएार्ा क, सभी कजन्द्म कऔर कमत्ृ य कु शस्तार्ज कउप ककद्र कक कुचधकार कक्षत्र कमद कहोिा कचािह कऔर कजन्द्म क
क कसमय किएंर्ग कुिप
ु ात कपर कनिर्गरािी कहोिा कचािह क र्ं कसच
ू िा कशी कजािी कचािह । कउप-कन्द््र कमद करख कजाि क
र्ाए कन्द्यि
ू तम करस्जस्टरों ककी क क कसच
ू ी कुिब
ु ध
ं क8 कमद कशी कर्गयी कहै ।

निर्गरािी तंत्र

आंतररक तंत्र : कसहायक, कपयवर्क्षण कऔर कररकाडव कसमय-समय कपर कPHC कक कपरु
ु ष कऔर कमिहएा कस्र्ास््य क
पयवर्क्षकों कद्र्ारा क(कम कस ककम क क कबार कसप्ताह कमद क) कऔर कMO कद्र्ारा क क(कम कस ककम क क कबार कस कमाह क
मद क) कउप-कन्द््र ों कमद ककी कजािी कचािह कI कउपकन्द््र कक किए कसच
ू ी कुिब
ु ध
ं क9 कपर कशी कर्गयी कहै कI क

32 | P a g e
बािरी तंत्र: कउप-कन्द््र ों कका कनिरीक्षण किाम कपंचायतों कक कतहत कककया कजा र्गा। क क कसरए कजांच कसच
ू ी क
PRI/NGO/SHG क किए कुिब
ु ध
ं क9 कA कमद कशी कर्गयी कहै कI क

क कवर्स्तत
ृ कसुवर्धा कसर्देक्षण कप्रारूप क(ुिुबंध क10) भी किजर करखि कक किए कसमय कसमय कपर क
िशया कजाता कहै ककक कक्या कउप-कद्र कुप-टू कभारतीय कएोक कस्र्ास््य कमािकों क(आईपी च स) क कस्तर क
पर कहै क।

पीआरआई कको कनिर्गरािी कमद काािमए कहोिा कचािह कI कनिम्ििएणखत कपर किजर करखी कजा कसकती कहै :

 सर्ा कक किए कप्रर्ा क(इस्क्र्टी)। कउप कस्र्स््य ककद्र कका कस्थाि क– कय कसुनिस्श्चत ककरिा ककी क
र्ो कमिहएा ककायवकतावओं कक किए कसुरक्षक्षत कहै कऔर कबीच कमद , कर्गााँर् कक कक्षत्र कक कुन्द्शर कस्स्थत क
है कI
 पंजीकरण कऔर करफरए कप्रकक्रया; िाहकों कको कभार्ग कएि कमद कमस्ु तैशी; आपातकाएीि कप्रसनू त क
आिश कमामएों ककी कढुएाई कआिश कI
 उप ककद्र ककी कसर्ाओं कमद कसुधार कक किए कखए
ु ककोष कक कप्रबंधि कI
 कायवकताव कका कव्यर्हार कI
 ुन्द्य कसुवर्धा ं: कप्रतीक्षा कुंतररक्ष, ाौचाएय, उप-कद्र कक कनिमावण कमद कपीि कक कपािी।

र्गुणवत्ता आश्वािि और जवाबिे िी


िआर च म कक किशाानिशदे ाों कक कुिुसार, स्र्ास््य ककायवकतावओं ककी कनियिमत करूप कस ककौाए क
वर्कास कप्रिाक्षण क/ कसतत कचचककत्सा किाक्षा क(सी मई) क(कम कस ककम क क क क कसाए कमद कइस कतरह क
क कप्रिाक्षण) कक कमाध्यम कस कयह कसुनिस्श्चत कककया कजा कसकता कहै ।

आशा कसर्ाओं कऔर करोर्गी कसंतोष ककी कर्गुणर्त्ता कसुनिस्श्चत ककरि कक किए कयह कसमुशाय ककी क
भार्गीशारी कको कप्रोत्सािहत ककरि कक किए कआर्श्यक कहै । कजर्ाबशही कसुनिस्श्चत ककरि कक किए क
'िार्गररक कचाटव र’ कसभी कउप-कन्द््र ों कमद कउपएब्ध कहोिा कचािह क(ुिुबंध क11)

33 | P a g e
अिब
ु ंध 1 : राष्ट्रीय प्रनतरक्षण अिि
ु च
ू ी सशशओ
ु ं बच्चों और र्गर्यवती मदिलाओं
के सलए

34 | P a g e
अिब
ु ंध २: ANM,स्टाफ ििय, मदिला/परु
ु ष स्वास््य काययकताय के कायय एवं
कतयव्य
मदिला स्वास््य काययकताय (ANM) के कायय
र्ह कनिम्ििएणखत ककायों कको कपूरा ककरर्गी क:

र्गााँर्/ कर्गह
ृ कभ्रमण कक कसमय कर्ह कचएि कर्ाए कवर्िभन्द्ि ककायवक्रमों कक ककायों कको कसम्मिएत करूप कस ककरर्गीI क

मात ृ एवं बाल स्वास््य

1) र्गभावर्स्था कक कशौराि कर्गभवर्ती कमिहएा कका कपंजीकरण क र्ं कशखभाएI कयह कसनु िस्श्चत ककरिा ककी क
र्गभवर्ती कमिहएा कपंजीकरण कक कसाथ-साथ ककम कस ककम कANC कजांच ककी क4 कवर्स्जट कपरू ी ककरद I क

ANC कजांच कक कसमय कसरणी ककी कजािकारी कशद क–

1st ववस्जट: क12 कहफ्तों कक कुन्द्शर- कजैस कही कर्गभव कका कपता कचए कतरु ं त कर्गभवर्ती कका कपंजीकरण क
करर्ायद क र्ं कपहएी कANC कजांच ककरर्ा Iं कयिश कमिहएा कशरी कस कआती कहै कतब कभी कउसका कपंजीकरण क
करक कउसकी कर्गभावर्स्था कक कुिस
ु ार कउसको कउपचार किशया कजा I क

2nd ववस्जट: 14 क र्ं क26 कहफ़्तों कक कबीच I


3rd ववस्जट: 28 क क र्ं क34 कहफ़्तों कक कबीच I
4th ववस्जट: 36र्द कहफ्त क र्ं कप्रसर् कक कबीच I

ANC कजांच कक कसाथ कुन्द्य कसवु र्धा ाँ कजैस ककी क– कIFA ककी कर्गोिएयां, कTT कप्रनतरक्षण कआिश कप्रशाि क
करद I क

2) हीमोग्एोबबि कका कएर्ए कमापदI क ल्ब्यिू मि क र्ं कसर्ग


ु र कक किए कर्गभवर्ती कमिहएाओं कक कमत्र
ू ककी क
जांच ककरर्ा Iं क
3) सभी कर्गभवर्ती कमिहएाओं कको किसफिएस क र्ं करक्त कसमह
ू ककक कजांच कक किए कRPR कजांच कक किए क
PHC/CHC कभजदI क
4) ुसामान्द्य कर्गभवर्स्था कया कचचककत्सा क र्ं कप्रजिि कसम्बन्द्धी कमामएो कको कमिहएा कसहायक क(LHV) क
या कप्राथिमक कस्र्ा्यकद्र कभजदI क
5) उपकन्द््र कमद कयिश कप्रसर् ककक कसवु र्धा कउपएब्ध कहों कतो कप्रसर् ककरर्ा ं कI कुपि कक्षत्र कमद कबए
ु ाय कजाि क
पर कभी कप्रसर् ककरा Iाँ क
6) बए
ु ाय कजाि कपर, कशाई कद्र्ारा कककय कजाि कर्ाए कप्रसर् ककक कनिर्गरािी ककरद क र्ं कसहायता ककरद I क
7) प्रसर् कस्जिम ककिठिाई कहो करही कहो क र्ं कुसामान्द्य किर्जात कबच्चो क कको क करफर ककर क र्ं कउन्द्हद क
संस्था कमद कसही कउपचार कप्राप्त ककरर्ा ंI करफर कया कर्डस्चाजव कककय कर्ग करोर्गी ककी कशखरख ककरद I

35 | P a g e
8) एाभाथी ककक कपहचाि कANM ककरर्गी, कJSY कमद किमएि कर्ाएी करााी कका कवर्तरण, कसमथव कुचधकारी क
स कआर्श्यक कस्र्ीकृनत कप्राप्त ककरक कआर्श्यक कऔपचाररकताओं कको कपरू ा ककरर्गी क र्ं कप्रत्यक कमाह क
कक क7th कतारीख कतक कराज्य कद्र्ारा कतैयार कककय कर्ग कप्रारूप कमद कवपछए कमाह कक कखात कको कजमा क
करद र्गी कI कप्रनतमाह क3 कतारीख कको कहोि कर्ाएी कमान्द्यता कप्राप्त ककायवकतावओ ककी कसभा कमद कANM क
मािसक ककायवक्रम ककक करूप करखा कतैयार ककरर्गी, कजो ककी कआर्श्यक कहै कI क कJSK कक कुंतर्गवत कआि क
र्ाए किशाानिशदे ा कका कपाएि ककरर्गी कI कसाथ कही, कउसक कक्षत्र ककी कसभी कASHAs कक कसाथ कहफ्त क/ क
शस
ु र कहफ्त कमद कसभा ककरद र्गीI क
9) सभी कर्गभवर्ती कमिहएाओं कका क कANC/PNC कसर्ाओं कक किए कध्याि करखिा कI
10) ुपि कक्षत्र कमद कहोि कर्ाए कसभी कप्रसर् ककी कPNC कजांच ककरिा क र्ं कज़च्चा कर् कबच्चा कक करखरखार् क
र्ं कखािपाि ककी कजािकारी कप्रशाि ककरिाI कउपकन्द््र कर् कघर कमद कहोि कर्ाए कप्रसर् ककी कPNC कजांच क
भ्रमण क0, क3, क7 क र्ं क42 कर्द किशिों कमद ककरिा कI कसंस्था कमद कहोि कर्ाए कप्रसर् कक किए कPNC कजांच क
भ्रमण क3, क7 क र्ं क42 कर्द किशिों कमद ककरिा कI
11) जन्द्म कक कसमय ककम कर्जि कक कबच्चों कक कमामए कमद क6 कPNC कभ्रमण क0, क3,7,14,21,28 कर्द किशिों क
मद ककरिा कहै क, कजन्द्मजात कुसामान्द्यता, किर्जात कमद कबीमारी कक कखतर कआिश कक कखतरों कका कपता क
IMNCI किशाानिशदे ा कक कुिस
ु ार ककरिा क र्ं कसही कस्थाि कमद करफर ककरिाI क
12) ाीघ्र, कजन्द्म कस क1 कघंट कक कुन्द्शर कस्तिपाि कारु
ु ककरािाI कइन्द्फदट क र्ं कुन्द्य कबच्चो कक कआहार कक क
िशाानिशदे ा कक कुिस
ु ार क6 कमहीि कतक कबच्च कको ककर्ए कस्तिपाि कही ककरािा कसनु िस्श्चत ककरद I क
13) 1 कर्षव कक कुन्द्शर कक किाा कु र्ं क क5 कसाए कक कुन्द्शर कक कबच्चो ककी कर्ि
ृ ी क र्ं कवर्कास कको कमापिा क
र्ं कसमय कस करफर ककरिा कI
14) IMNCI किशाानिशदे ा/ कराष्ट्रीय किशाानिशदे ा कक कुिस
ु ार, कसभी कडायररया, कतीव्र कश्र्सि कसंक्रमण क
(न्द्यम
ू ोनिया) क र्ं कुन्द्य कछोटी कबबमाररयों कक किए कउपचार कप्रशाि ककरिा कI कर्गंभीर कडायररया, कश्र्सि क
बीमारी, कसंक्रमण, कर्गंभीर ककुपोषण क र्ं कुन्द्य कर्गंभीर कस्स्थनत कमद करफर ककरिा कI
15) माताओ कको कव्यस्क्तर्गत क र्ं कसामिू हक करूप कस कनिम्ििएणखत कक कबार कमद किाक्षक्षत ककरिा क–
मात कृ र्ं किाा कु स्र्ास््य कसिहत कुच्छ कपाररर्ाररक कस्र्स्थ, कपररर्ार कनियोजि, कपोषण, कप्रनतरक्षण, क
संक्रामक करोर्गों कक कनियंत्रण, कव्यस्क्तर्गत कऔर
पयावर्रण कस्र्च्छता।
16) उप-कन्द््र कक्एीनिक कमद कप्रसर् कपर्
ू कव और कप्रसर् कक कबाश कक कसंचाएि कमद कचचककत्सा कुचधकारी कऔर क
स्र्ास््य कसहायक क(मिहएा) ककी कसहायता ककरिा कI

36 | P a g e
पररवार नियोजि

1) पात्र कशं पती कऔर कबच्च कक करस्जस्टर कस कप्राप्त कजािकारी कका कउपयोर्ग कपररर्ार कनियोजि कक क
प्रोिाम कमद ककरिा कI क कपात्र कशं पनत कक करस्जस्टर कको कबिाि क र्ं कुपडट करखि ककी कपरू ी क
स्जम्मशारी कहोर्गी कI क
2) व्यस्क्तर्गत कऔर कसमह
ू ों कमद , कपररर्ार कनियोजि कका कसंशा कप्रसाररत ककर कयर्ग
ु ए कको कपररर्ार क
नियोजि कक किए कप्रररत ककरिा कI क
3) पारं पररक कर्गभव कनिरोधकों क र्ं कओरए कर्गभव कनिरोधकों कका कवर्तरण, कभार्ी कस्र्ीकारकतावओं क
द्र्ारा कपररर्ार कनियोजि ककी कवर्चध कको कस्र्ीकार ककरि कक किए कसवु र्धा कप्रशाि ककरिा कI क
जरूरत कपडि कपर कुस्पताए कतक कएाि कमद कशाई क/ कASHA ककी कसहायता कएिाI
4) कमिहएाओ कक कपररर्ार कनियोजि कवर्चध कक कुपिाि कपर कउिकी कशख करख ककरिा, कशष्ट्ु प्रभार् कपर क
िज़र करखिाI कशष्ट्ु प्रभार् क र्ं कछोटी किाकायत कमद कतरु ं त कउपचार कप्रशाि ककरिाI क कउि कमामएो कको क
स्जिम कचचककत्सक ककक कजरूरत कहो कतरु ं त कPHC/ कुस्पताए करफर ककरिा कI
5) क कप्रिाक्षक्षत कANM कक कद्र्ारा कIUCD कको कप्रवर्स्ष्ट्ट कककया कजा कसकता कहै ।
6) मिहएा कर्डपो कधारकों ककी कस्थापिा ककरद , कउिकी करनिंर्ग कमद कस्र्ास््य कसहायक क(मिहएा) ककक क
मशश ककरद क, कर्डपो कधारकों कक किए कपारं पररक कर्गभव कनिरोधकों ककी क क कसतत कआपनू तव कप्रशाि क
करर्ा ं क।
7) स्र्ीकारकतावओं कक कसाथ कताएमए कबिायद, कपररर्ार ककल्याण ककायवक्रम कको कबढ़ार्ा कशि कक किए क
र्गााँर् कक कमणु खया, कASHA, कशाई क र्ं कुन्द्य कका कउपयोर्ग ककरद कI क
8) मिहएाओं किताओं ककी कपहचाि ककर कउन्द्हद कस्र्ास््य कसहायक क(मिहएा) ककी कमशश कस कतैयार क
करिा कI
9) मिहएा कमंडए ककी कबैठकों कमद कभार्ग कएिा क र्ं कऐस कसमह
ू ों कका कउपयोर्ग कपररर्ार ककल्याण क
कायवक्रम कक कबार कमद किाक्षक्षत ककरि कमद ककरिा कI

work कcontinue क

37 | P a g e
अिब
ु ंध 3 : उपकेन्द्र का िक्शा

38 | P a g e
39 | P a g e
40 | P a g e
िोट- अिुबंध 4, 5, एवं 5A के िंिर्य में
टाइप A उपकेन्द्र में फिीचर एवं अन्द्य उपकरण जो की प्रिव के सलए आवश्यक िैं , प्रिाि
ििीं ककया जायेर्गाI
टाइप B उपकेन्द्र में प्रिव एवं िवजात के रख रखाव के सलए आवश्यक िर्ी फिीचर एवं
अन्द्य उपकरण प्रिाि ककये जायेंर्गे I

अिब
ु ंध 4: फिीचर, अन्द्य कफदटंर्ग और ववववध लेख की िच
ू ी
निम्ि कसच
ू ी क क कसझ
ु ार् कहै कइि कउपकरणों ककी कसंख्या, कउपयोर्ग क र्ं कउपएब्धता कउपकन्द््र कक कस्थाि क र्ं क
प्रकार कपर कनिभवर ककरती कहै क-

उपरोक्त िूची में स्थािीय जरूरतों एवं उपलब्ध स्थाि केआधार पर पररवतयि ककया जा िकता िै I

*केवल टाइप B उपकेन्द्र के सलए

41 | P a g e
अिब
ु ंध 5 : उपकरण और उपर्ोग्य िामचियों

निम्ि कसच
ू ी क क कसझ
ु ार् कहै कइि कउपकरणों ककी कसंख्या, कउपयोर्ग क र्ं कउपएब्धता कउपकन्द््र कक कस्थाि क र्ं क
प्रकार कपर कनिभवर ककरती कहै क-

42 | P a g e
िोट: ककस कएोड क र्ं कउपयोर्ग कक कआधार कपर कउपकरणों ककक कसंख्या कबशए कसकती कहै कI क

उपर्ोग्य पिाथो की िूची

43 | P a g e
44 | P a g e
45 | P a g e
अिब
ु ंध 5 A प्रिव कमरे में िवजात कोिा

work कcontinue क

46 | P a g e
अिब
ु ंध 6 : प्रस्ताववत िवाइयों की िच
ू ी
िोट क: कसभी कशर्ाइयां कशोिों कप्रकार कक कउपकन्द््र कक किए कसामाि कहोर्गी, ककर्ए कटाइप कA कउपकन्द््र कमद कप्रसर् कसम्बन्द्धी क
शर्ाइयां किहीं कहोर्गी कI क

47 | P a g e
48 | P a g e
अिब
ु ंध 7: जैव चचककत्िा अपसशष्ट्ट (प्रबंधि और िैंडसलंर्ग) के र्गिरे िफि वपट
के सलए मािक, 1998 नियम

work कcontinue क

49 | P a g e
अिब
ु ंध 8: ररकॉडय और ररपोटय

work कcontinue क

50 | P a g e
अिब
ु ंध 8A: रस्जस्टर

work कcontinue क

51 | P a g e
अिब
ु ंध 8B: IDSP प्रारूप

work कcontinue क

52 | P a g e
अिब
ु ंध 9 : जांच िच
ू ी
उपस्र्ास््य ककद्र कक कआन्द्तररक कनिर्गरािी कक किए कजांच कसच
ू ी: कनतमाही/ुधवर्ावषवक/र्ावषवक क

सर्ायद उपएब्ध क आपक्षक्षत क िटप्पणी क

जिसंख्या कस्जिको कसर्ा कप्रशाि ककक कर्गयी- क

मात ृ स्वास््य:

ANC कपंजीकरण ककक कसंख्या क

1st कनतमाही कमद कहु कANC कपंजीकरण ककक कसंख्या क

निम्ितम क4 कANC कजांच कप्रशाि ककक कर्गयी कANC ककी कसंख्या क

ANC ककक कसंख्या कस्जिक कBP ककक कनिर्गरािी ककी कर्गयी क

ANC ककक कसंख्या कस्जिक कHb क ककक कनिर्गरािी ककी कर्गयी क

ANC ककक कसंख्या कस्जिक कपााब कका कपररक्षण कसर्ग


ु र क र्ं कप्रोटीि कक किए कककया क

र्गया क

ANC ककक कसंख्या कजो ककक कउच्च कजोणखम कर्ाए कप्रसर् कथ क

ANC ककक कसंख्या कस्जिको क100 कIFA कर्गोिएयां कर्गभावर्स्था कक कसमय कशी कर्गयी क

मिहएाओं ककक कसंख्या कस्जिको कबस्


ू टर क/ कTT ककी क2 खूराक शी कर्गयी क
nd क क क

खतर कक कएक्षण कर्ाए कप्रसर् ककक कसंख्या कस्जिको कउच्च कसंस्था कमद करफर कककया कर्गया क

संस्था कमद कहोि कर्ाए कप्रसर् ककक कसंख्या क

PNC ककी कसंख्या कजो ककक कप्रसर् कक कबाश, क1 कहफ्त कक कुन्द्शर, कनिम्ितम क3 कPNC क

वर्स्जट क क(0, क3, क7 कर्द किशि) कभ्रमण कककय क

छूट कहु कANC/PNC कमामए कस्जिको कखोजा कर्गया क

उपस्र्ास््य ककद्र कमद कककय कर्ग कप्रसर्ों ककक कसंख्या क

क्या कप्रसर् ककी कनिर्गरािी कपाटोिाफ कक कद्र्ारा ककक कजा करही कहै ?

क्या किहतिाही कको कMCH ककाडव किश कजा करह कहैं?

र्गभव ककक कसंख्या कस्जिका कपता कर्गभावर्स्था कजांच कककट कका कउपयोर्ग ककरक कएर्गाया क

53 | P a g e
र्गया क

सशशु स्वास््य:
परू ी कतरह कस कप्रनतरक्षक्षत किााओ
ु ं क(स्जिका कटीकाकरण कहुआ कहो) ककी कसंख्या

बच्चों ककी कसंख्या कस्जिको कखसर कक कटीक कप्राप्त कहु

- क कर्षव कस ककम कसमय कमद

- क कर्षव कस कुचधक कसमय कमद

िर्जात किााओ
ु ं ककी कसंख्या कस्जसका कजन्द्म कक कसमय कर्जि किएया कर्गया कहै

िर्जात किााओ
ु ं ककी कसंख्या कस्जसका कजन्द्म कक कसमय कर्जि क2500 किाम कस क क
कम करहा क

पांच कर्षव कस ककम कबच्चों ककी कसंख्या कजो ककक कI-िड ककुपोषण कमद कथ क

पांच कर्षव कस ककम कबच्चों ककी कसंख्या कजो ककक कII-िड ककुपोषण कमद कथ क

पांच कर्षव कस ककम कबच्चों ककी कसंख्या कजो ककक कIII-िड ककुपोषण कमद कथ क

पररवार नियोजि

पंजीकृत ककी कर्गयी कपात्र कजोडों ककी कसंख्या

पररर्ार कनियोजि की कककसी कभी कवर्चध कका कउपयोर्ग ककरि कर्ाए कजोडों ककी कसंख्या

जोडों ककी कसंख्या कस्जन्द्होंि कपररर्ार कनियोजि ककी कस्थायी कवर्चध कको कुपिाया कहै

मदिला ििबंिी एवं उिके प्रकार:

 िमनिएप किसबंशी

 इंटरर्ए किसबंशी

 पोस्ट-पारटम किसबंशी

 एप्रोस्कोवपक किसबंशी

54 | P a g e
पुरुष ििबंिी

पात्र कजोड कस्जन्द्होंि कबच्चो कक कबीच कशरू ी करखि कक किए कवर्चध कका कउपयोर्ग कककया क

 IUCD क

 र्गोिएयां

 निरोध

 आपातकाएीि कर्गभवनिरोधक

 परामाव कसर्ाओं

उपलब्ध बुनियािी ढांचा

निज़ी क/ कककरा कपर कउपएब्ध कउप-कन्द््र कभर्ि

पररक्षण ककमरा कप्रसर् ककमरा क

पीि कक कपािी ककी कसवु र्धा क

ाौचाएय

बबजएी

ुपिाष्ट्ट कपशाथों कका कनिपटाि

स्र्ास््य ककिमवयों कक किए कआर्ास

ANM, कHW(परु
ु ष)

िच
ू ी के अिि
ु ार, काम करिे की िालत में उपकरणों की उपलब्धता
िच
ू ी के अिि
ु ार, िवाइयों की उपलब्धता

स्टाफ के सलए आवार्गमि कक िवु वधा

निररक्षण प्रणाली:
a) निररक्षण भ्रमण
LHV कक कद्र्ारा
स्र्ास््य कनिरीक्षक क(परु
ु ष)
PHC कक कMO कI/C क
55 | P a g e
b) िाम कस्र्ास््य कस्र्च्छता क र्ं कपोषण कसिमनत कक कद्र्ारा

िार्गररक ववशेषाचधकार
ररकॉडव करखिा क र्ं कसचू चत ककरिा क
जन्द्म क र्ं कमत्ृ य कु
ुन्द्य कपंजीकरण
PHC कको कररपोटव कभजिा
बख
ु ार के मामलो कक िंख्या
तैयार की र्गयी ब्लड स्लाइड की िंख्या
धिात्मक मलेररया मामलों की िच
ू िा िी र्गयी
रे डडकल उपचार वाले मामलो की िंख्या
मामल
ू ी बीमाररयों के मामलों की िंख्या
- उपचार ककया र्गया
- रे फेर ककया र्गया

56 | P a g e
अिब
ु ंध 9 A

क क सरए क सचू च क स्जस क र्गैर क सरकारी क संर्गठि/ क पंचायती क राज क संस्थाओं/ क स्र्यं क सहायता क समह
ू क क क द्र्ारा क
इस्तमाए कककया कजा कसकता कहै .

िामान्द्य जािकारी

र्गांर् कका किाम क:

स्जए कका किाम क:

उप-कन्द््र कद्र्ारा ककर्र कककया कर्गया ककुए कजिसंख्या क:

पी चसी कस कशरू ी क:

उप-केन्द्र में स्टाफ की उपलब्धता

उप कसर्स्थ ककद्र कमद कनिम्ििएणखत कनियक्


ु त कस्टाफ क?

स्र्ास्थकमी क क – क मिहएा क ( . ि. म ्) क -२ क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क हााँ क क क क क क क क क क क क


िहीं क

स्र्ास्थकमी क – क परु
ु ष क ( म ्.पी.डब्ए)ू क – क १ क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क हााँ क क क क क क क क क क क क
िहीं क

स्टाफ क िसव क ( क या क ुनतररक्त क . ि. म ् क कर्ए क टाइप क बी क उप क स्र्ास्थ क कद्र क क क िए क यिश क स्टाफ क िसव क
उपएब्ध किहीं क है क ) क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क हााँ क क क क क क क क क क क क
िहीं क

संवर्शा क सफाई-कायवकताव क – क १ क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क हााँ क क क क क क क क क क क क


िहीं क

उप-केन्द्र में बनु ियािी ढांच के (infrastructure) की उपलब्धता

उप क स्र्ास्थ क कद्र क क क िए क मिोिीत क सरकारी क ईमारत क उपएब्ध क है क ? क क क क क क क क क क क क क क क क हााँ क क क क क क क क क क क क


िहीं क

उप क स्र्ास्थ क कद्र क मद क जए क नियिमत क रूप क स क उपएब्ध क है क ? क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क हााँ क क क क क क क क क क क क क


िहीं क
57 | P a g e
क्या क नियिमत क रूप क स क बबजएी क की क आपनू तव क (supply) उप-कद्र क मद क होती क है क ? क क क क क क क क क हााँ क क क क क क क क क क क क क
िहीं क

उप कस्र्ास्थ ककद्र कमद कपरीक्षा ककी कमज ककाम ककरि ककी कहाएत कमद क है क ? क क कहााँ, क क किहीं, क क क क ककोई कजािकारी क
िहीं क

उप कस्र्ास्थ ककद्र कमद कुस्जर्ाणु कबिािर्ाएा कसाधि ककाम ककरि ककी कहाएत कमद कहै क? कहााँ, क क क किहीं, क क क क ककोई क
जािकारी किहीं क

उप क स्र्ास्थ क कद्र क मद क तोएि क की क माीि क काम क करि क की क हाएत क मद क है क ? क हााँ, क क क क क क िहीं, क क क क क क कोई क
जािकारी किहीं क

क्या कउप कस्र्ास्थ ककद्र कमद कर्डस्पोजबए कप्रसर् कककट कउपएब्ध कहै क? कहााँ, क क क क किहीं, क क क ककोई कजािकारी किहीं

उप-केन्द्र में िेवाओं की उपलब्धता

क्या कडॉक्टर ककम कस ककम क क कबार कमहीि कमद कउप कस्र्ास्थ ककद्र कका कशौरा ककरता कहै क? क क कहााँ क क क क क किहीं क

क्या कइस कशौर कका किशि कऔर कसमय कस्स्थर क(fixed) कहै क? क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क कहााँ क क क क क किहीं क

क्या कर्गााँर् कक कनिर्ािसयों कको कडॉक्टर कक कशौर कक कसमय कक कबार कमद कपता कहै क? क क क क क क क क कहााँ क क क क क क किहीं क

क्या कप्रसर् कपर्


ू कव शखभाए क(इंजक्ाि किटटिस क,आयरि कऔर कफोिएक क िसड ककी कर्गोएी, कर्जि कऔर कबी.पी क
की क जांच क )उप क स्र्ास्थ क कद्र क मद क प्रशाि क की क जाती क है क ? क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क हााँ क क क क क क क
िहीं क

क्या कर्गभावर्स्था/र्डएीर्री कक कजिटए कमामएों ककी करफरए कक किए कउप कस्र्ास्थ ककद्र कमद क क24 कघंट कक किए क
सवु र्धा कउपएब्ध कहै क? क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क कहााँ क क क क क क क किहीं क

क्या ककोई कप्रिाक्षक्षत ककमी क . ि. म ्/आाा, क क कमिहएा कजो कप्रसर् कहोि कर्ाएी कहै क ,उसक कसाथ करफरए कक क
समय, कभजा कर्गया कआस्पताए कतक कजाती कहै क? क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क कहााँ क क क क क क क किहीं क

क्या कउप कस्र्ास्थ ककद्र कद्र्ारा कप्रशाि ककी कर्गई कटीकाकरण ककी कसर्ा ं कसरकारी कुिस
ु च
ू ी कक कुिस
ु ार कहै क?

क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क कहााँ क क क क क क क क क किहीं क

क्या कउप कस्र्ास्थ ककद्र कमद कशस्त कऔर कनिजवएीकरण कका कइएाज कउपएब्ध कहै क? क क क क क क कहााँ क क क क क क क क किहीं क

क्या कउप कस्र्ास्थ ककद्र कमद कछोटी कबीमारी कजैस कबख


ु ार, कखांसी, कसशी कआिश कका कइएाज कउपएब्ध कहै क?

58 | P a g e
क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क कहााँ क क क क क क क क क किहीं क

क्या कउप कस्र्ास्थ ककद्र कमद क बख


ु ार कक कमामए कमद क पता कएर्गाि कक किए कपररफरए कब्एड कस्मीयर क(peripheral
blood smear) एि ककी कसवु र्धा कहै क? क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क कहााँ क क क क क क क क किहीं क

क्या कर्गभवनिरोधक कसर्ा ं कउप कसर्स्थ ककद्र कद्र्ारा कप्रशाि ककी कजाती कहै क,जैस ककॉपर कटी कडाएिा, कर्गभवनिरोधक क
र्गोिएयां कया ककंडोम कका कवर्तरण क? क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क क कहााँ क क क क क क क क क किहीं क

क्या अिि
ु चू चत जानत, अिि
ु चू चत जिजानत या अन्द्य वपिड़े वर्गों द्वारा उप-केन्द्रों की िेवाओं का
उपयोर्ग ककया जा रिा िैं

ुंनतम कनतमाही कमद कउप-कन्द््र ों कद्र्ारा कउपएब्ध ककराई कर्गई कसर्ाओं कक कएाभाचथवयों ककी ककुए कसंख्या:

इिमद कस कककति कएाभाचथवयां कुिस


ु चू चत कजानत कक कहैं?

इिमद कस कककति कएाभाचथवयां कुिस


ु चू चत कजिजानत कक कहैं?

इिमद कस कककति कएाभाचथवयां कुन्द्य कवपछड कर्र्गों कक कहैं?

59 | P a g e
अिब
ु ंध 10 : उपस्वास््य केंर के ककये IPHS के अिि
ु ार फैसिसलटी िवे प्रारूप

पहचाि

राज्य कका किाम:------------------------------------------------------------------

स्जएा:----------------------------------------------------------------------------

तहसीए/खंड:---------------------------------------------------------------------

र्गााँर् कका किाम--------------------------------------------------------------------

उप-कद्र कका कस्थाि---------------------------------------------------------------

डाटा क कत्र ककरि ककी कतारीख-------------------------------िशि/मिहिा/साए क

डाटा क कत्र ककरि कर्ाए कव्यस्क्त कका किाम क र्ं कहस्ताक्षर----------------------

सर्ायद क

कर्र ककी कर्गयी कजिसंख्या क(संख्या) क

MCH कशखभाए कपररर्ार कनियोजि कसिहत क

सर्ा ककी कउपएब्धता क(हां/िहीं)

a. प्रसर्पूर् कव शखभाए
b. प्रसर्काएीि कशखभाए
c. प्रसर्ोत्तर कशखभाए
d. िर्जात ककी कशखभाए
e. टीकाकरण कसिहत कबच्च ककी कशखभाए
f. पररर्ार कनियोजि कऔर कर्गभवनिरोधक
g. ककाोरों कमद कस्र्ास््य कशखभाए

60 | P a g e
h. स्कूए कस्र्ास््य कसर्ाओं कको कसहायता
i. जििी कसरु क्षा कयोजिा कक कतहत कसवु र्धा ं
j. छोटी कबीमाररयों कका कउपचार
k. प्राथिमक कचचककत्सा क(उस्ल्एणखत ककरद )

वर्िाष्ट्ट कसर्ाओं ककी कउपएब्धता क(हां क/ किहीं)

a) क्या कडॉक्टर क क कमहीि कमद ककम कस ककम क क कबार कउप-कद्र कका कशौरा ककरता कहै ?

b) क्या कइस कशौर कका किशि कऔर कसमय कतय कहै ?

c) क्या कर्गांर् कक कनिर्ािसयों कको कडॉक्टर कक कशौर कक कसमय कक कबार कमद कपता कहै क?

d) स्र्ास््य कसहायक क(परु


ु ष) कया क ए चर्ी कउप-कन्द््र कमद कसप्ताह कमद ककम कस ककम क क कबार क
शौरा ककरता कहै ?

e) क्या कउिक कद्र्ारा कउप-कन्द््र कमद कप्रसर् कपर्


ू कव शखभाए क(Inj. कT.T, आइ फ कर्गोिएयां, र्जि

और कबीपी ककी कजांच) कउपएब्ध ककराई कजाती कहै ?

f) क्या कर्गभावर्स्था कक किए कनिम्ि कसुवर्धा ं कउपएब्ध कहैं- कहीमोग्एोबबि कपरीक्षण, प्रोटीि कऔर क
ाकवरा कजांच कक किए कमूत्र कपररक्षण कI

g) क्या कउप-कद्र कमद कजिटए कर्गभावर्स्था/ कप्रसर् कक कमामए करफर कककय कजाि कपर क24 कघंट कसवु र्धा क
उपएब्ध करहती कहै ?

h) क्या कप्रसर् कपीडा कक कसमय करफरए कमद कANM/ कASHA/ुन्द्य कप्रिाक्षक्षत ककमी कसाथ कमद कजात कहै ?

i) क्या कप्रनतरक्षण कका ककायव कउप-कद्र कमद कसरकार कद्र्ारा कनिधावररत कसमय कसच
ू ी कक कुिस
ु ार कहोता कहै ?

j) शस्त कर् कनिजवएीकरण ककी करोकथाम कक किए कओआर स कउपएब्ध कहै ?

k) बख
ु ार, खांसी, कठं ड, कृिम कप्रकोप कआिश कजैसी कछोटी कसी कबीमारी कक किए कउप ककद्र कमद कउपचार कहै ?

l) क्या कबख
ु ार ककी कजांच कक किए कपररफरए कब्एड कस्मीयर कएि ककक कसवु र्धा कउपएब्ध कहै क?

m) क्या कर्गभव कनिरोधक कसर्ाओं कजैस ककी ककॉपर-टी कप्रवर्स्ष्ट्ट, ओरए कर्गभवनिरोधक कर्गोिएयों कया क
कंडोम कका कवर्तरण कउप-कद्र कमद कहो करह कहैं?

61 | P a g e
n) यह क क कडॉट्स ककद्र कहै ?

अन्द्य कायय एवं िेवाएं (िााँ / ििीं )

a) VAPP क र्ं कAEFI कसवर्वएदस कसिहत कबीमारी क

b) स्थािीय क ंडिमक कबीमारी कका कनियंत्रण क

c) स्र्च्छता कको कबढ़ार्ा क

d) क्षत्र कका कशौरा कऔर कघर ककी कशखभाए

e) राष्ट्रीय कस्र्ास््य ककायवक्रम क चआईर्ी क/ क ड्स कनियंत्रण ककायवक्रम कसिहत क

निर्गरािी क र्ं कशखरख ककक्रया ं क(हााँ/िहीं)

a) शाई कऔर कआाा कका कप्रिाक्षण


b) र्गांर् कमद कपािी ककी कर्गण
ु र्त्ता ककी कनिर्गरािी
c) ुसामान्द्य कस्र्ास््य ककी कघटिाओं कपर किजर
d) AWWs, आाा, र्गांर् क की क स्र्ास््य क स्र्च्छता क र्ं क पोषण क सिमनत क र्ं क PRIs क क क साथ क
समन्द्र्य कI
e) आाा कक कसाथ कसमन्द्र्य क र्ं कर्गनतवर्चधयों ककी कशखरख
f) ररकॉडव कऔर करस्जस्टरों कका कउचचत करखरखार्
g) प्रनतरक्षा कक कड्रॉप कआउट क र्ं कछोड कहु कमामएो ककी करै ककं र्ग
h) र्हााँ क क किाम कस्र्ास््य कयोजिा क/ कउप-कद्र ककी कयोजिा कहै ?
i) क्या कआाा ककी कयोजिा कको कउप-कन्द््र कमद कएार्ग कू ककया कर्गया कहै क?

62 | P a g e
मैिपॉवर (जि-ताकत)
उपस्वास््य केंर उपस्वास््य केंर A उपस्वास््य केंर B (MCH उपकेन्द्र)
का प्रकार
स्टाफ Essential/ Desirable/ Essential/ Desirable/
अनिवार्य वाांनित अनिवार्य वाांनित
ANM/ कस्र्ास््य क 1 +1 2
कायवकताव क(मिहएा)
स्र्ास््य ककायवकताव क 1 1
(परु
ु ष)
स्टाफ किसव( कया क 1**
ANM, कयिश कस्टाफ क
िसव किहीं कहो)
सफाई ककमवचारी* क 1 क(ुंाकािएक) 1 क(पण
ू क
व ािएक)

63 | P a g e
64 | P a g e
65 | P a g e
66 | P a g e
र्गण
ु वत्ता नियंत्रण

SN क वर्ाष क कायवरत/ कमािक कक कुिस


ु ार कउपएब्ध क िटप्पणी क

1 क क्या कआशाव किार्गररक कघोषणापत्र कस्थािीय कभाषा कमद कहै क? क


(हां क/िहीं क)

2 आन्द्तररक कनिर्गरािी क: कपुरुष क र्ं कमिहएा कस्र्ास््य क


सहायक क(सप्ताह कमद क1 कबार) क र्ं कMO क(महीि कमद क1 क
बार क) कसुपरवर्जि क र्ं कररकाडव ककी कचककं र्ग ककी कजाती कहै कI क

3 बाह्य कनिर्गरािी क: कVHSNC कका कमल्


ू यांकि कककसी कबाह्य क
संस्था कक कद्र्ारा कककया कजािा कI क

4 भारत कसरकार क र्ं कराज्य कसरकार कद्र्ारा किश कर्ग क


निशदे ा कका कउपएब्ध कहोिा क(वर्र्रण कशद क)

67 | P a g e
अिब
ु ंध 11 : mi LokLF; dsUnzksa ds fy, vkn'kZ ukxfjd घोषणापत्र

izLrkouk

mi LokLF; dsUnz Hkkjr ds izR;sd ukxfjd dks vkcafVr lalk/kuksa ¼allocated resources½ vkSj miyC/k
lqfo/kk,¡ ds Hkhrj] LokLF; lqfo/kk iznku djkus ds fy, miyC/k gSA pkVZj ,d :ijs[kk ¼ framework½
iznku djuk pkgrk gS tks ukxfjdksa dks fuEufyf[kr irk djokus ds fy, l{ke gSa %

 D;k lsok,¡ miyC/k gSa \


 os ftu lsokvksa dh xq.koÙkk ds gdnkj gSaA
 ftlds ek/;e ls lsokvksa dh [kjkc xq.kksa ;k bUdkj ds ckjs esa f'kdk;rksa dks lacksf/kr fd;k
tk,xkA

mn~ns’;

 ukxfjdksa ds fy, xq.koÙkkiw.kZ LokLF; ns[kHkky lsok,¡ vkSj lacaf/kr lqfo/kkvksa dks miyC/k
djokus ds fy,A
 mfpr lykg] mipkj] jsQjy vkSj gj fpfdRlh; laHko ¼to the extent medically possible½
djkus dk leFkZu iznku djus ds fy, tks chekjh dk bykt djus esa enn~ djsxhA
 bl lac/a k esa fdlh f'kdk;rksa dk fuokj.k djus ds fy,A

pkVZj dh izfrc)rkvksa ¼commitments½

 lqfo/kkvksa dks fcuk fdlh HksnHkko ds miyC/k djus ds fy,A


 ;fn mi LokLF; dsUnz esa igq¡pus ij t:jr iM+rh gS rks vkikrdkyhu lsok,¡ iznku djus ds
fy,A
 i;kZIr l¡[;k esa uksfVl cksMZ dh miyC/krk ftlesa miyC/k lqfo/kkvksa dk irk dk C;kSjk vkSj
{ks= nkSjk ¼field visit½ dh vuqlwph gksA
 funku vkSj mipkj fn;k x;k mldh tkudkjhA
 f'kdk;rksa ds fjdkWMZ vkSj ,d fu;r ij izfrfØ;k djus ds fy, le;A

f’kdk;rksa dk lq/kkj
 ukxfjdksa dh f'kdk;rsa ntZ dh tk,xhA

68 | P a g e
 f'kdk;r ntZ djus ds ckn ihfM+r mi;ksxdrkZ dks izkFkfed LokLF; dsUnz esa nwljs dh jk;
ysus dh vuqefr nh tkuh gksxhA
mi;ksxdrkZ dk mÙkjnkf;Ro
 mi;ksxdrkZvksas dks pkVZj ds izfrc)rkvksa ¼commitments½ dks le>us dk iz;kl djsx
a As
 mi;ksxdrkZ dks ,slh lsok ij tksj ugha nsuk pkfg, tks pkVZj esa fu/kkZfjr ekud ls Åij gSa
D;ksafd ;g fdlh vU; mi;ksxdrkZ ds fy, lsok ds U;wure Lohdk;Z Lrj ds izko/kku
¼Provision of minimum acceptable level of service½ dks udkjkRed :i ls izHkkfor dj ldrs
gSaA
 mi LokLF; dsUnz ds dfeZ;ksa dk vuqns'k dk ikyu bZekunkjh ls fd;k tk,xkA
 f'kdk;rksa ds ekeys es]a fuokj.k ra= e'khujh ¼redressal mechanism machinery½ fcuk nsjh
fd, mi;ksxdrkZvksa }kjk lacksf/kr ¼addressed½ fd;k tk,xkA

fu"iknu ys[kk ijh{kk ¼performance audit½ vkSj pkVZj dh leh{kk ¼review of charter½
{ks=ksa dks doj djus ds ckn tgk¡ ekud fufnZ’V fd;k x;k gS] ,d lgdehZ leh{kk ¼peer review½ ds
ek/;e ls fu’iknu vads{k.k ¼performance audit½ gj nks ls rhu lky esa fd;k tk ldrk gSA

69 | P a g e
अिब
ु ंध 12 : िंक्षक्षप्त िामों की िच
ू ी

70 | P a g e
71 | P a g e
िन्द्िर्य

72 | P a g e
काययिल के ििस्यों के िाम स्जन्द्िोंिे IPHS मािको को पि
ु ः तैयार करिे में
योर्गिाि दिया

73 | P a g e
स्र्ास््य कसर्ा कमहानिशााएय
स्र्ास््य क र्ं कपररर्ार ककल्याण कमंत्राएय
भारत कसरकार

74 | P a g e